बच्चों से कुकर्म करने वालों को भी होगी फांसी ! POCSO एक्ट होगा जेंडर न्यूट्रल

86 0

नई दिल्ली। अब तक बच्चियों के रेपिस्ट के खिलाफ पॉक्सो एक्ट का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन आने वाले दिन में ये कानून जेंडर न्यूट्रल होगा। यानी अगर किसी बच्चे से कुकर्म भी होता है, तो भी उस पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई होगी।

केंद्र सरकार कानून में करेगी बदलाव
महिला और बाल कल्याण मंत्रालय ने इसका सुझाव तैयार किया है। मंत्रालय ने इस बारे में 26 अप्रैल को ट्वीट भी किया था। बुधवार को मंत्री मेनका गांधी ने कहा था कि बच्चों से दुष्कर्म की घटनाओं में भी बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में बच्चों से ऐसा घृणित काम करने वालों को भी सख्त सजा का प्रावधान कानून में किया जाना जरूरी है।

मेनका ने और क्या कहा था ?
मेनका गांधी ने ये भी कहा था कि कुकर्म पीड़ित बच्चों पर भी सरकार स्टडी कराएगी। बता दें कि इससे पहले साल 2007 में महिला और बाल विकास मंत्रालय ने सर्वे कराया था। जिसमें पता चला था कि 53.2 फीसदी बच्चों का यौन शोषण होता है। पीड़ित में से 52.9 फीसदी बच्चे मिले थे। रेप पीड़ित बच्चियों की संख्या उनसे कम थी।

12 साल तक की बच्चियों से रेप पर है फांसी की सजा
बीते दिनों कठुआ और एटा समेत देश के कई हिस्सों में बच्चियों से रेप की घटनाएं सामने आई थीं। इसके बाद मोदी सरकार ने अध्यादेश जारी कर 12 साल तक की बच्चियों से रेप करने वाले दोषियों के लिए अधिकतम सजा फांसी की कर दी है। अब अगर पॉक्सो कानून को जेंडर न्यूट्रल बनाया जाता है, तो बच्चों से कुकर्म करने वालों को भी पॉक्सो की हर धारा के तहत कैद से लेकर फांसी तक की सजा होगी।

Related Post

मॉब लिंचिंग : SC ने राजस्थान सरकार से पूछा – रकबर की हत्या मामले में अबतक क्या किया?

Posted by - August 20, 2018 0
नई दिल्ली। अलवर में कथित गोरक्षकों द्वारा पिछले महीने रकबर खान की हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान सरकार…

बिकिनी कोई नया परिधान नहीं, 3500 साल पहले भी पहनती थीं महिलाएं

Posted by - November 30, 2018 0
पेरिस। फिल्मों और सौंदर्य प्रतियोगिताओं में बिकनी पहनकर हिरोइन या मॉडल दिखती हैं, तो उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया के जरिए…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *