हां, कांग्रेस के दामन पर है मुस्लिमों के खून का दाग : सलमान खुर्शीद

73 0

अलीगढ़। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और यूपीए सरकार में विदेश मंत्री रहे सलमान खुर्शीद ने माना है कि कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून का दाग है। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में हुए कार्यक्रम में एक छात्र के सवाल पर खुर्शीद ने ये आरोप स्वीकार किया है।

क्या था कार्यक्रम ?
एएमयू के डॉ. बीआर आंबेडकर हॉल में वार्षिकोत्सव समारोह था। इस दौरान सलमान खुर्शीद बतौर गेस्ट वहां पहुंचे थे। एएमयू से सस्पेंड छात्र आमिर मिंटोई ने खुर्शीद से पूछा कि 1947 में आजादी के बाद 1948 में एएमयू एक्ट में संशोधन, 1950 का राष्ट्रपति का वो आदेश, जिसमें मुस्लिम दलितों से आरक्षण का हक छीना गया, हाशिमपुरा, मलियाना, मेरठ, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, भागलपुर और अलीगढ़ में मुसलमानों का नरसंहार हुआ। बाबरी मस्जिद के दरवाजे खुलवाए गए, वहां मूर्तियां रखवाई गईं और फिर नरसिंह राव की कांग्रेस सरकार के दौरान बाबरी ढांचा ढहा दिया गया। आमिर ने खुर्शीद से पूछा कि क्या ये कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के दाग नहीं हैं, कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के जो धब्बे हैं, इन धब्बों को आप किन अल्फ़ाज़ों से धोना चाहेंगे ? इस पर सलमान खुर्शीद को आमिर मिंटोई के लगाए हुए इल्जामों से बचते हुए और ना चाहते हुए भी यह कहना पड़ा कांग्रेस का नेता होने के नाते मुसलमानों के खून के ये धब्बे मेरे अपने दामन पर हैं।

खुर्शीद ने और क्या कहा ?
सलमान खुर्शीद ने ट्रिपल तलाक पर छात्रों को जागरूक भी किया। इसके अलावा उन्होंने कहा कि इसी यूनिवर्सिटी के वीसी लॉज में मेरी पैदाइश है, लेकिन मुझे अफसोस है कि मेरी तरबियत यहां नहीं हुई है। उन्होंने छात्रों से अपील की कि गुजरे हुए वक्त से सबक सीखो। सलमान खुर्शीद ने कहा कि आगे भी इस बात का ख्याल रखो कि जब कभी आप अलीगढ़ लौटकर आओ, तो आपको भी अलीगढ़ में सवाल पूछने वाले मिलें।

Related Post

अध्ययन : सेक्स एजुकेशन पर अपने बच्चों से बात नहीं करते 60 प्रतिशत पैरेंट्स

Posted by - November 16, 2018 0
नई दिल्ली। समाज में आ रहे नित-नए बदलावों के कारण आज सेक्स शिक्षा की अनिवार्यता और भी अधिक हो गई है।…

दिल्‍ली में प्रदूषण : फिर से ऑड-ईवन, 13 से 17 नवंबर तक चलेगा अभियान

Posted by - November 9, 2017 0
एनजीटी और हाईकोर्ट की फटकार के बाद जागी सरकार, राष्‍ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी दिया नोटिस एनजीटी का सख्‍त रुख,…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *