उसकी लाश देखकर रो रहे थे घरवाले, अर्थी पर रखते ही उठ बैठा !

33 0

अलीगढ़। मौत के बाद किसी के जिंदा होने की तमाम कहानियां सभी ने सुनी हैं, लेकिन अलीगढ़ के अतरौली में ऐसा तमाम लोगों के सामने हुआ। यहां मौत की नींद सो चुका शख्स अचानक उठकर बैठ गया।

दोबारा जिंदा होने वाला शख्स कौन ?
मामला अलीगढ़ के अतरौली तहसील के किरथला गांव का है। यहां रहने वाले 53 साल के रामकिशोर की अचानक मौत हो गई। उसकी सांस बंद होने से परिवार में कोहराम मच गया। रिश्तेदारों को रामकिशोर की मौत की खबर भेजी गई। सारे लोग इकट्ठा हुए। अर्थी के लिए सामान लाया गया और रामकिशोर के अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी गई।

लाश को नहलाते वक्त उठकर बैठा
मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक, जब रामकिशोर की लाश को अर्थी पर रखकर नहलाया जा रहा था, तो वो अचानक उठ बैठा। उसे मरे हुए अब तक 5 घंटे हो चुके थे। रामकिशोर ने उठते ही कहा कि चिंता मत करो, मैं ठीक हूं। गलती से वे (यमदूत) ले गए थे। रामकिशोर को जिंदा देख और उसकी बातें सुनकर मौजूद लोग दंग रह गए। घर में खुशियां लौट आईं। इस घटना की चर्चा होने के साथ ही अब रामकिशोर के घर आस-पास के गांववाले भी रोज जुट रहे हैं।

चमत्कार मानने से डॉक्टरों का इनकार
रामकिशोर भले कह रहा है कि यमदूत उसे गलती से ले गए थे, लेकिन डॉक्टर इसे चमत्कार नहीं मान रहे हैं। आईएमए के डॉ. प्रदीप बंसल के मुताबिक कभी-कभी आदमी के दिल की धड़कन और सांस लेने की गति धीमी हो जाती है। उस वक्त वो शख्स कोमा में चला जाता है। तब लोग समझते हैं कि उसकी मौत हो गई, लेकिन वो जिंदा रहता है।

अलीगढ़ में ही हुआ था ऐसा ही एक केस
बता दें कि मौत के बाद फिर से जिंदा होने के तमाम मामले पहले अखबारों में छपते रहे हैं। पहले अलीगढ़ में भी ऐसा ही किस्सा सामने आया था। उस वक्त कयामपुर के निवासी एक बुजुर्ग को आगरा में मृत घोषित किया गया था, लेकिन अलीगढ़ लाते वक्त बुजुर्ग के शरीर में हरकत होने लगी थी। उन्हें फिर नर्सिंग होम में दाखिल कराया गया था, जहां तीन दिन बाद उनकी मौत हुई थी।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *