मुहल्ले के युवक ने ही की थी कुशीनगर के युवा व्यापारी आशुतोष की हत्या

126 0
  • पुलिस ने 48 घंटे के भीतर किया कपड़ा व्‍यापारी आशुतोष पटेल की हत्‍या का खुलासा
  • हत्‍यारोपित अली रजा को पुलिस ने किया गिरफ्तार, हत्‍या में प्रयुक्‍त लोहे की रॉड बरामद

शिवरतन कुमार गुप्‍ता ‘राज’

महराजगंज। जिले के चर्चित आशुतोष पटेल हत्याकाण्ड के खुलासे को चुनौती को तरह लेते हुए पुलिस ने 48 घण्टे के भीतर ही इसका खुलासा कर दिया। हालांकि पुलिस को जिन लोगों के ऊपर शक था, वे बेकसूर निकले। मुहल्ले का ही रहने वाला अली रजा हत्‍यारा निकला। उसने महज टोका-टाकी पर लोहे की पाइप से वार कर युवा कारोबारी आशुतोष पटेल की हत्या कर दी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

युवा व्यापारी आशुतोष पटेल (फाइल फोटो)

क्‍यों की आशुतोष की हत्‍या ?

आशुतोष पटेल नगर पालिका कार्यालय के समीप एक दोस्त की पार्टी में गया था। वहां से रात में बाइक से बैकुण्ठपुर स्थित अपने मामा (दिनेश पटेल) के घर के लिए चला। रात करीब 01.14 बजे बिजली पावर हाउस के पास उसने बाइक रोककर लघुशंका की। हत्यारोपित अली रजा उस समय पावर हाउस के पास ही एलबो लगी लोहे की पाइप लेकर घूम रहा था। आशुतोष ने उससे टोका-टाकी की तो दोनों में कहासुनी हो गई। मौका मिलते ही अली रजा ने एलबो लगे लोहे की पाइप से ताबड़तोड़ कई वार आशुतोष के सिर पर कर दिए। सिर में गम्भीर चोट लगने से उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसके बाद भी अली रजा ने आशुतोष के सिर पर कई वार किए। जब अली रजा पूरी तरह सन्तुष्ट हो गया कि आशुतोष की मौत हो गई है, तो वहां से फरार हो गया।

पुलिस ने लोहे की पाइप बरामद की

महराजगंज पुलिस ने आशुतोष पटेल के हत्यारोपित अली रजा को जिला मुख्यालय स्थित बस स्टेशन से गिरफ्तार किया। उसे जेल भेज दिया गया है। हत्या में प्रयुक्त एलबो लगा लोहे का पाइप भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस के दावे के मुताबिक, एलबो लगी लोहे की पाइप पर अली रजा के फिंगर प्रिंट भी मिल गए हैं। अली रजा कुशीनगर जिले के नेबुआ-नौरंगिया थानाक्षेत्र के क्रांति चौराहा का मूल निवासी है, लेकिन इन दिनों वह बैकुण्ठपुर स्थित कांशीराम शहरी आवास में सपरिवार रह रहा था।

महराजगंज में कुशीनगर के युवा व्यापारी की रॉड से पीटकर निर्मम हत्या

पुलिस को कैसे मिला सुराग ?

एएसपी आशुतोष शुक्ल की देखरेख और सीओ सिटी मुकेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने आशुतोष पटेल के इस ब्लाइण्ड मर्डर केस से 48 घंटे के भीतर ही पर्दा उठा दिया। बताया जा रहा कि पुलिस को हत्याकाण्ड का सुराग गोरखपुर रोड स्थित एक दुकान से मिला। दुकान पर मौजूद एक शख्श ने सबके सामने ही यह बोल दिया कि कत्ल उसके सामने हुआ। हत्यारोपित बड़ी बेरहमी से मार रहा था। दुकान से निकली यह बात पुलिस तक पहुंच गई, जिसके बाद अली रजा को गिरफ्तार कर लिया गया।

माँ-बाप का इकलौता बेटा था आशुतोष

आशुतोष पटेल कुशीनगर जिले के हाटा कोतवाली क्षेत्र के अर्जुन डुमरी गांव निवासी प्रमोद पटेल का इकलौता बेटा था। प्रमोद पटेल की दो बेटियां भी हैं। एक बेटी और आशुतोष का विवाह हो चुका थी, दूसरी बेटी की विवाह की तैयारी चल रही थी।

पुलिस टीम को 10  हजार का इनाम

पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने आशुतोष पटेल हत्याकाण्ड का खुलासा करने वाली टीम को 10 हजार रुपये का इनाम दिया है। इस टीम में कोतवाल रामदवन मौर्य, एसएचओ रामपाल यादव, स्वाट प्रभारी इंस्पेक्टर राजेश वर्मा, परसामलिक थाना प्रभारी आनन्द कुमार गुप्त, महिला थाना प्रभारी शीला यादव, थानाध्यक्ष घुघली राजप्रकाश सिंह, एसओ कोठीभार अरुण कुमार राय, कोतवाली एसआई कन्हैया पाण्डेय शामिल थे।

Related Post

मेघालय में उग्रवादी हमले में एनसीपी प्रत्याशी जोनाथन संगमा की मौत

Posted by - February 19, 2018 0
हमले में जोनाथन के सुरक्षाकर्मी और दो एनसीपी कार्यकर्ताओं की भी मौत 2013 के विधानसभा चुनावों में भी मिली थी…

बोले अमित शाह – 2019 में तो जीतेंगे ही, आगे 50 साल तक कोई नहीं हटा सकता

Posted by - September 9, 2018 0
बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पीएम मोदी ने दिया नया नारा –  ‘अजेय भारत, अटल भाजपा’ नई दिल्ली। बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *