मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में फैसला सुनाने वाले जज का इस्तीफा नामंजूर

95 0

हैदराबाद। यहां की मक्का मस्जिद में हुए धमाकों के मामले में बीते दिनों सारे आरोपियों को एनआईए की विशेष अदालत ने बरी कर दिया था। इस फैसले के तुरंत बाद एनआईए जज रविंदर रेड्डी ने पद से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन आंध्र प्रदेश और तेलंगाना हाईकोर्ट ने जज रविंदर रेड्डी का इस्तीफा नामंजूर कर दिया है। उन्हें तुरंत ड्यूटी पर लौटने के लिए कहा गया है।

निजी कारण बताकर दिया था इस्तीफा
मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में फैसला सुनाने के बाद तुरंत इस्तीफा देने वाले जज ने इसके लिए निजी कारण बताए थे। उन्होंने कहा था कि मक्का मस्जिद केस से उनके इस्तीफे का लेना-देना नहीं है। वहीं, AIMIM अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने जज के इस्तीफे पर हैरानी जताई थी।

क्या था मक्का मस्जिद मामला ?
हैदराबाद की मशहूर मक्का मस्जिद के बाहर 18 मई 2007 को तेज धमाके हुए थे। इसमें 9 लोग मारे गए थे और 58 जख्मी हुए थे। ब्लास्ट के बाद हिंसा हुई थी। जिसमें पुलिस फायरिंग से 5 अन्य लोगों की मौत हुई थी। स्वामी असीमानंद इस मामले में मुख्य आरोपियों में थे। इस मामले में सीबीआई और एनआईए जांच हुई थी और 10 आरोपियों में से 8 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई थी। एनआईए कोर्ट ने सभी 5 आरोपी देवेंद्र गुप्ता, लोकेश शर्मा, स्वामी असीमानंद उर्फ नबकुमार सरकार, भारत मोहनलाल रत्नेश्वर उर्फ भारत भाई और राजेंद्र चौधरी को सबूत न होने पर बरी करने का फैसला सुनाया था।

Related Post

जेडीएस

देशभर में 20 नए एम्स बनाएगी मोदी सरकार, किसानों के लिए नई योजना

Posted by - May 2, 2018 0
नवनिर्माण योजना के तहत अपग्रेड किए जाएंगे लखनऊ, चेन्नई और गुवाहाटी एयरपोर्ट नई दिल्‍ली। केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के…

केंद्र ने कहा – 2.1 लाख फर्जी कंपनियों की संपत्तियों की पड़ताल करें राज्य

Posted by - October 27, 2017 0
नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने राज्यों से उन 2.1 लाख फर्जी कंपनियों की संपत्तियों की पड़ताल करने को कहा है,…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *