तमिलनाडु के राज्यपाल ने थपथपाया महिला पत्रकार का गाल, मचा बवाल

29 0
  • राज्‍यपाल के गाल सहलाने से भड़की महिला पत्रकार, कहा – ‘मैंने कई बार चेहरा धोया’

चेन्‍नै। तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। ‘डिग्री के लिए सेक्स’ केस में आरोपी महिला के बयान से चर्चा में आए राज्‍यपाल ने मंगलवार को इस मामले पर राजभवन में एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस बुलाई थी। इसी प्रेस कॉन्फेस में जब एक महिला पत्रकार ने उनसे सवाल पूछा तो राज्यपाल ने जवाब देने की बजाय उसके गाल सहला दिए। राज्‍यपाल की इस हरकत से महिला पत्रकार काफी असहज हो गईं।

महिला पत्रकार ने जताया विरोध

इस घटना के बाद महिला पत्रकार लक्ष्मी सुब्रमण्यम ने सोशल मीडिया के जरिए इस हरकत का विरोध किया है। उन्‍होंने एक मैगजीन के लिए 630 शब्दों का आर्टिकल लिखा है, जिसमें राज्‍यपाल के ऐसा करने को दुखद और गलत बताया है। महिला पत्रकार ने आगे लिखा, ‘ये अव्‍यावहारिक रवैया है। किसी भी अनजान को उसकी सहमति के बिना छूना, खास तौर से महिला को, गलत है।

क्‍या कहा महिला पत्रकार ने ?

इस घटना के बाद महिला पत्रकार ने ट्विटर पर गुस्‍सा जाहिर करते हुए कहा – ‘मैंने अपना चेहरा कई बार धोया, लेकिन मैं इस भाव से छुटकारा नहीं पा रही। राज्‍यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मैं काफी गुस्‍से में हूं। हो सकता है ये आपके लिए प्रोत्‍साहन का तरीका और दादाजी जैसा रवैया हो, लेकिन मेरे लिए आप गलत हैं।’

द्रमुक ने कहा, अशोभनीय हरकत

महिला पत्रकार के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर राज्यपाल की जमकर आलोचना की गई। राज्य के प्रमुख विपक्षी दल द्रमुक ने इसे एक संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति के लिए ‘अशोभनीय’ कृत्य बताया है। द्रमुक सांसद कनिमोझी और कार्यवाहक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने ट्वीट कर इसकी आलोचना की। कनिमोझी ने ट्वीट किया, ‘अगर संदेह नहीं भी किया जाए, तब भी संवैधानिक पद पर बैठे एक व्यक्ति को इसकी मर्यादा समझनी चाहिए। एक महिला पत्रकार को छूकर राज्‍यपाल ने गरिमा का परिचय नहीं दिया है।’

क्‍या है मामला ?

गौरतलब है कि तमिलनाडु के अरुप्पूकोट्टई के देवांग आर्ट कॉलेज की एक महिला लेक्चरर पर आरोप है कि उन्होंने छात्रों को ज्यादा नंबर और पैसे के लिए कुछ अधिकारियों के साथ एडजस्ट करने की सलाह दी थी। हालांकि वह इन आरोपों से इनकार कर रही हैं। साथ ही, एक ऑडियो भी सामने आया है जिसमें ये महिला लेक्‍चरर राज्‍यपाल से अपने संबंधों की बात कह रही हैं। राज्‍यपाल ने इसी बात पर सफाई देने के लिए प्रेस कांफ्रेंस बुलाई थी।

Related Post

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज बोले – संविधान के बाद आरएसएस करती है देश की रक्षा

Posted by - January 4, 2018 0
जस्टिस थॉमस ने कहा – संघ ‘राष्‍ट्र की रक्षा’ हेतु अपने स्‍वयंसेवकों में भरता है अनुशासन कोट्टायम। उच्‍चतम न्‍यायालय से…

बंगलुरु हादसे में मलबे से जिंदा निकली मासूम, मां-बाप की मौत, बच्ची को सरकार ने लिया गोद

Posted by - October 16, 2017 0
कहा जाता है कि जाको राखे साइयां मार सके ना कोय, ऐसा ही कुछ बंगलुरु के इज्जिपुरा इलाके में हुआ.…

अब आरओ के जल से ही होगा महाकाल का अभिषेक : सुप्रीम कोर्ट

Posted by - October 27, 2017 0
नई दिल्ली: बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर में स्थापित शिवलिंग में हो रहे क्षरण को रोकने के लिए…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *