विहिप में तोगडि़या युग का अंत, जस्टिस कोकजे बने नए अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष

106 0

गुरुग्राम। हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल और हाईकोर्ट के जज रहे जस्टिस विष्णु सदाशिव कोकजे को विश्व हिंदू परिषद (विहिप) का नया अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। इसके साथ ही विहिप में प्रवीण तोगडि़या युग का अंत हो गया। जस्‍ट‍िस कोकजे को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की पसंद बताया जा रहा है।

कोकजे को मिले 131 वोट

बता दें कि विहिप की स्‍थापना के बाद पिछले 52 वर्षों में पहली बार अध्‍यक्ष पद के लिए मतदान कराया गया है। नए अध्यक्ष के नाम पर आम सहमति ने बनने के कारण चुनाव कराना पड़ा। विश्व हिंदू परिषद के कुल 192 प्रतिनिधि है। इनमें से कोकजे को 131 वोट मिले, जबकि दूसरे प्रत्‍याशी राघव रेड्डी को सिर्फ 60 वोट मिले। एक वोट अवैध पाया गया। गुड़गांव में शनिवार (14 अप्रैल) को हुए चुनाव में विहिप के अंतरराष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष प्रवीण तोगडि़या की छुट्टी हो गई है।

कौन हैं जस्टिस कोकजे ?

जस्टिस वीएस कोकजे वर्ष 2003 से 2008 तक हिमाचल प्रदेश के राज्‍यपाल रहे। उन्‍हें अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में हिमाचल प्रदेश का गवर्नर बनाया गया था। इससे पहले वे जुलाई, 1990 से अप्रैल 1994 तक मध्‍य प्रदेश हाईकोर्ट के जज और अप्रैल 1994 से सितंबर 2001 तक राजस्‍थान हाईकोर्ट के जज रह चुके हैं। जस्टिस कोकजे भारत विकास परिषद के अध्‍यक्ष भी रहे। उनका जन्‍म 6 सितंबर, 1939 को मध्‍य प्रदेश के धार जिले के दाही तहसील के कुकसी गांव में हुआ था। इंदौर से डिग्री लेने के बाद उन्‍होंने 1964 में वकालत शुरू की थी।

संघ और बीजेपी से नाराज थे तोगडि़या

बताया जा रहा कि राम मंदिर के मसले पर संसद द्वारा कानून बनाए जाने की मांग पर अड़े प्रवीण तोगड़िया काफी समय से आरएसएस और बीजेपी से नाराज चल रहे हैं। यही नहीं, वे खुले तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी आलोचना कर चुके हैं। ऐसे में तोगड़िया या उनके करीबियों का चुना जाना पहले से ही नामुमकिन माना जा रहा था। बता दें कि यह चुनाव पिछले साल दिसंबर में ही होना था, लेकिन तोगडि़या के तगड़े विरोध के कारण चुनाव नहीं कराया जा सका था।

Related Post

पीएम मोदी विश्व के तीसरे सबसे लोकप्रिय नेता, ट्रंप-जिनपिंग को पछाड़ा

Posted by - January 12, 2018 0
इंटरनेशनल रेटिंग एजेंसी गैलप के सर्वे में 53,769 लोगों ने दी अपनी राय 50 अलग-अलग देशों में हुए सर्वे में पीएम…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *