उन्नाव रेप केस का आरोपी बीजेपी MLA गिरफ्तार, CBI ने सुबह 4.30 बजे दबोचा

64 0

लखनऊ। सीबीआई ने उन्नाव रेप के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार सुबह 4.30 बजे विधायक को लखनऊ के इंदिरानगर से गिरफ्तार किया गया। सीबीआई ने गुरुवार शाम को ही केस अपने हाथ में ले लिया था।

सीबीआई ने दिखाई तेजी
सीबीआई को गुरुवार सुबह यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने उन्नाव रेप केस की जांच की सिफारिश भेजी थी। गुरुवार शाम को ही सीबीआई ने केस हाथ में ले लिया था। इसके बाद 24 लोगों की टीम तुरंत बनाई गई और रात बीतते न बीतते बीजेपी का आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर जांच एजेंसी के हत्थे चढ़ गया।

यूपी सरकार ने गिरफ्तार नहीं किया था
बता दें कि विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ अपहरण, अपहरण कर रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी। पॉक्सो एक्ट में तुरंत गिरफ्तारी का प्रावधान होने के बावजूद विधायक को गिरफ्तार नहीं किया गया था। यहां तक कि मीडिया से मुखातिब होने पर डीजीपी ओपी सिंह ने विधायक को ये तर्क देते हुए माननीय कहा था कि विधायक अभी सिर्फ आरोपी है। इसे लेकर भी बीजेपी की काफी फजीहत हुई थी।

गिरफ्तारी न होने का हाईकोर्ट में दिया था ये तर्क
वहीं, इलाहाबाद हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस डीबी भोंसले की बेंच ने जब इस मामले में सख्त रुख अपनाया, तो यूपी सरकार के वकील ने कहा था कि विधायक के खिलाफ सबूत नहीं हैं, सबूत मिलते ही गिरफ्तारी होगी। सवाल ऐसे में ये है कि यूपी पुलिस के हाथ सबूत नहीं थे, लेकिन सीबीआई को रातों रात विधायक की गिरफ्तारी के लिए क्या आधार मिल गए ?

योगी और अमित शाह ने साधी थी चुप्पी
रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की गिरफ्तारी के मसले पर सीएम योगी आदित्यनाथ और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने चुप्पी साध रखी थी। योगी ने गुरुवार को इस बारे में सवाल पूछे जाने पर हाथ के इशारे के अलावा कुछ नहीं कहा था। वहीं, लखनऊ आए अमित शाह ने विधायक के खिलाफ एक्शन के सवाल पर ये कहा था कि रोड पर बात नहीं कर सकते।

क्या है मामला ?
उन्नाव की बांगरमऊ सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर माखी थाना इलाके की एक युवती ने अगवा कर रेप का आरोप लगाया है। युवती ने स्थानीय थाने पर सुनवाई न होने के विरोध में लखनऊ में सीएम आवास और फिर थाने पर आत्मदाह की कोशिश की थी। इस घटना के बाद एडीजी आलोक कुमार ने जांच के आदेश दिए थे। यूपी सरकार ने भी एसआईटी बनाई थी। इस बीच, विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर और उसके गुर्गों ने रेप पीड़ित के पिता की जमकर पिटाई की और पुलिस से साठ-गांठ कर उसे जेल भिजवा दिया। जेल में रेप पीड़ित के पिता की मौत हो गई थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला था कि पीटने से उनकी बड़ी आंत फट गई थी। इसके बाद पुलिस ने विधायक के भाई अतुल और चार अन्य को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

Related Post

अमेरिका की एच1-बी पॉलिसी में बदलाव नहीं, 7.5 लाख भारतीयों को राहत

Posted by - January 10, 2018 0
अब आगे भी वहां नौकरियां करते रहेंगे इंडियंस, उन्‍हें नहीं लौटना पड़ेगा भारत नई दिल्ली (एजेंसी)। अमेरिका में काम कर…

अगर ऐसा हुआ तो 200 साल बाद धरती पर सबसे बड़ी स्तनधारी होगी गाय

Posted by - April 21, 2018 0
अमेरिका में न्यू मैक्सिको विश्वविद्यालय के नेतृत्व में शोधकर्ताओं ने किया दावा वॉशिंगटन। मान लीजिए, यदि कोई आपसे यह कहे कि…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *