CWG : शूटिंग में तेजस्विनी का गोल्ड पर निशाना, अंजुम ने जीता सिल्वर मेडल

114 0

गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया)। यहां चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने का भारतीय खिलाड़ियों का सफर जारी है। इस बार गोल्ड मेडल पर शूटर तेजस्विनी सावंत ने निशाना लगाया है। तेजस्विनी ने महिलाओं की 50 मीटर रायफल थ्री पोजीशन में गोल्ड मेडल हासिल किया। इसी प्रतियोगिता में भारत की अंजुम मौदगिल दूसरे स्थान पर रहकर सिल्वर मेडल हासिल कर सकीं। तेजस्विनी के गोल्ड मेडल के साथ ही भारत के खाते में 15 गोल्ड मेडल हो चुके हैं। इतने ही गोल्ड मेडल भारत ने चार साल पहले ग्लासगो में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में जीते थे।

तेजस्विनी ने लगाए सटीक निशाने
गोल्ड कोस्ट के बेलमॉण्ट शूटिंग सेंटर में तेजस्विनी सावंत ने गुरुवार को महिलाओं की 50 मीटर रायफल प्रोन में सिल्वर मेडल जीता था, लेकिन शुक्रवार को नए जोश के साथ वो शूटिंग रेंज में उतरीं। उन्होंने अपने मुकाबले में 457.0 अंकों का कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड बनाया। तेजस्विनी ने इससे पहले 2006 में कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर और 2010 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में मिला था गोल्ड
37 साल की तेजस्विनी पहली भारतीय महिला हैं, जिन्होंने 2010 में वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल हासिल किया था। अभी चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स के क्वालिफिकेशन राउंड में वो तीसरे स्थान पर थीं।

मौदगिल ने जीता सिल्वर
वहीं, 24 साल की अंजुम मौदगिल ने क्वालिफाइंग राउंड में 589-32 एक्स के साथ टॉप किया था, लेकिन वो फाइनल में तेजस्विनी से पिछड़ गईं। अंजुम ने अपना पहला कॉमनवेल्थ मेडल हासिल करने के लिए 455.7 अंकों का स्कोर बनाया। अंजुम ने इसी साल मार्च में इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में इसी इवेंट में सिल्वर मेडल जीता था।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *