उन्नाव रेप केस : बीजेपी MLA पर केस दर्ज, सीबीआई जांच के आदेश

56 0

लखनऊ। रेप केस में फंसे उन्नाव के बांगरमऊ से एमएलए कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ रेप, पॉक्सो एक्ट और अगवा करने की गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। इसके साथ ही यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने युवती से गैंगरेप और पीड़ित के पिता की हत्या की जांच सीबीआई से कराने का फैसला किया है। एसआईटी की रिपोर्ट मिलने के बाद सीएम योगी ने ये फैसला किया। वहीं, विधायक का कहना है कि वो बेगुनाह हैं।

विधायक ने भाई को माना गुनहगार
बता दें कि पीड़ित लड़की के पिता की जमकर पिटाई की गई थी। बड़ी आंत फट जाने से जेल में उनकी मौत हो गई थी। इस मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने एक टीवी चैनल से कहा कि वो रेप केस में बेगुनाह हैं। ये पूछे जाने पर कि पीड़ित के पिता की मौत के मामले में आपका भाई अतुल सिंह सेंगर जेल भेजा गया है, सेंगर ने कहा कि जो गलती करेगा वो जेल जाएगा। कुलदीप लगातार ये आरोप लगाते रहे कि मीडिया ट्रायल चल रहा है और सीबीआई जांच से सच्चाई सामने आ जाएगी।

कितने लोग हुए हैं गिरफ्तार ?
पुलिस ने गैंगरेप और पीड़ित के पिता की हत्या के मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल समेत पांच आरोपियों को अब तक गिरफ्तार किया है।

डॉक्टरों पर भी कार्रवाई
विधायक के खिलाफ एफआईआर और मामले की सीबीआई जांच कराने का फैसला करने के अलावा योगी आदित्यनाथ सरकार ने पीड़ित लड़की के पिता के इलाज में लापरवाही बरतने पर उन्नाव जिला अस्पताल के दो ईएमओ डॉ. डीके द्विवेदी और डॉ. प्रशांत उपाध्याय और सफीपुर के सीओ कुंवर बहादुर सिंह को सस्पेंड कर दिया। इसके अलावा जिला अस्पताल के आर्थो सर्जन डॉ. मनोज कुमार, सर्जन डॉ. जीपी सचान और अस्पताल के ईएमओ गौरव अग्रवाल के खिलाफ भी अनुशासनात्मक कार्रवाई के आदेश हुए हैं।

Related Post

हाईकोर्ट ने दिल्ली उपचुनाव की नोटिफिकेशन जारी करने पर लगाई रोक

Posted by - January 24, 2018 0
ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में आम आदमी पार्टी के 20 अयोग्‍य घोषित विधायकों को राहत दिल्‍ली हाईकोर्ट ने निर्वाचन आयोग…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *