OMG : कुकर्म के बाद पकाकर खा गया 6 साल के बच्चे का गोश्त

96 0
  • मांस खाते वक्‍त ही पुलिस ने किया था गिरफ्तार, कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

पीलीभीत। यहां के अमरिया में 6 साल के बच्चे के साथ कुकर्म के बाद उसका मांस पकाकर खा जाने वाले एक शख्स को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। दोषी पर 25 हजार रुपए का जुर्माना भी कोर्ट ने लगाया है।

क्या है मामला ?
21 फरवरी, 2017 को अमरिया के नजीम मियां ने पड़ोस में रहने वाले 6 साल के मोहसिन को अगवा कर लिया था। अगवा करने के बाद नजीम मियां ने मोहसिन से कुकर्म किया। इसके बाद बच्चे की हत्या कर दी।

हत्या के बाद पीया खून, मांस पकाकर खाया
नजीम मियां ने मोहसिन की हत्या के बाद उसका खून पीया और लाश के कई हिस्सों का मांस काटा। फिर इस मांस को पकाकर खा गया। पुलिस ने उसे मोहसिन का मांस खाते वक्त ही गिरफ्तार किया था। सेशन कोर्ट के जज संजीव शुक्ला ने सबूतों की बिनाह पर नजीम मियां को गुनहगार माना। उसे 302 के तहत मौत की सजा, कुकर्म के मामले में 10 साल की सजा और पॉक्सो एक्ट के तहत उम्रकैद की सजा सुनाई।

पीलीभीत में मची थी सनसनी
नजीम मियां को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने जब बच्चे के कुकर्म के बाद उसका गोश्त खाने का खुलासा किया, तो पीलीभीत से लेकर यूपी के तमाम हिस्सों में सनसनी फैल गई थी।

कोली ने भी रेप के बाद खाया था मांस
नजीम मियां का मामला और नोएडा के निठारी गांव में बच्चियों की हत्या का मामला एक जैसा है। नोएडा के निठारी गांव से बच्चियां गायब हो रही थीं। बाद में खुलासा हुआ कि निठारी में मोनिंदर सिंह पंढेर का नौकर सुरेंद्र कोली बच्चों को भुलावा देकर घर में ले जाता था। वहां रेप के बाद उनकी हत्या कर देता था और लाश के टुकड़े फ्रिज में रखकर उन्हें पकाकर खाता रहा। निठारी में कई बच्चियों का मांस खाने के बाद उनकी हड्डियों को बाहर एक गहरे नाले में सुरेंद्र कोली फेंक देता था। ऐसे कई मामलों में कोली को मौत की सजा सुनाई जा चुकी है।

Related Post

डॉ. अंबेडकर पर टिप्पणी कर मुश्किल में हार्दिक पांड्या, एफआईआर के आदेश

Posted by - March 22, 2018 0
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर पर टिप्पणी करने के बाद विवादों…

बालिग हादिया ने मर्जी से की शादी, एनआईए को जांच का हक नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Posted by - January 23, 2018 0
केरल लव जिहाद केस में सुप्रीम कोर्ट ने कहा – पति के क्रिमिनल बैकग्राउंड की हो सकती है जांच नई दिल्‍ली।…

रिसर्च : 6 राज्‍यों में मुस्लिम परिवारों में बच्‍चों का औसत हिंदुओं से ज्‍यादा

Posted by - August 2, 2018 0
लखनऊ। एक आम धारणा है कि मुस्लिम परिवारों में औसतन 8-10 बच्‍चे होते हैं। 2011 की जनसंख्‍या के आंकड़ों के…

स्‍टडी में दावा : सबसे आम दवाइयां भी आपको धकेल रही हैं डिप्रेशन में !

Posted by - November 6, 2018 0
वाशिंगटन। वैसे तो डॉक्‍टर अवसाद या डिप्रेशन के ढेर सारे कारण बताते हैं लेकिन अमेरिका में हुए एक नए अध्ययन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *