सरेआम थप्पड़ मारने पर पड़ोसी की बेटी के काट डाले हाथ, फिर ले ली जान

40 0

मुंबई। यहां से सटे ठाणे जिले के भिवंडी में 1500 रुपए का उधार चुकता न करने वाले एक शख्स ने थप्पड़ मारे जाने पर दुकानदार की 4 साल की बच्ची के हाथ काट डाले और उसकी हत्या कर दी।

कहां का है मामला ?
दिल को दहला देने वाला ये मामला भिवंडी के भोईवाड़ा थाना इलाके में हुआ। यहां महादेव नाम के शख्स की दुकान है। महादेव ने कुछ दिन पहले 1500 रुपए का उधार न चुकाने पर आरोपी को सरेआम थप्पड़ मार दिया था। इस पर आरोपी ने बदला लेने के लिए महादेव की 4 साल की बच्ची को अगवा कर लिया। उसने पहले बच्ची के दोनों हाथ काटकर अलग कर दिए, फिर उसकी हत्या कर दी।

पुलिस ने क्या बताया ?
1 अप्रैल को महादेव ने पुलिस को 4 साल की पायल के लापता होने की खबर दी। महादेव ने बताया कि घर के पास खेलते वक्त बच्ची लापता हो गई। 4 अप्रैल को पुलिस ने घर से 300 मीटर दूर बच्ची की लाश बरामद की। उसके दोनों हाथ काट डाले गए थे। महादेव और उसके परिवार ने पड़ोस में रहने वाले आरोपी का नाम लिया, लेकिन पुलिस के पास पुख्ता सबूत नहीं थे।

आरोपी ने बच्ची को ढूंढने का किया नाटक
भिवंडी जोन-2 के डिप्‍टी कमिश्नर ऑफ पुलिस सुनील भारद्वाज के मुताबिक, आरोपी दो दिन तक पुलिस और महादेव के परिवार के साथ मिलकर बच्ची को तलाशने में भी जुटा रहा। लाश मिलने के बाद वो भागकर बिहार में अपने गांव चला गया।

आरोपी को बिहार से लेकर आई पुलिस
भिवंडी पुलिस को पता चला कि महादेव का पड़ोसी फरार है। फिर पूछताछ में पता चला कि महादेव ने उसे उधार न चुकाने पर सरेआम थप्पड़ मारे थे। इसके बाद पुलिस की एक टीम बिहार गई और आरोपी को वहां दबोच लिया। कोर्ट ने 19 अप्रैल तक आरोपी को पुलिस रिमांड पर भेजा है। पुलिस अब बच्ची की हत्या में इस्तेमाल हथियार और उसके दोनों कटे हाथों की तलाश कर रही है।

Related Post

जल्द आ सकता है कैंसर का टीका, अमेरिका में चूहों पर परीक्षण सफल

Posted by - September 13, 2018 0
टेक्सास। सक्रिप्स रिसर्च और टेक्सास यूनिवर्सिटी ने कैंसर का टीका करीब-करीब खोज लिया है। आने वाले दिनों में कैंसर के…

राहुल बोले – मैं पीएम होता तो डस्ट बिन में फेंक देता नोटबंदी की फाइल

Posted by - March 10, 2018 0
दक्षिण एशियाई देशों की 5 दिन की यात्रा पर हैं कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी सिंगापुर। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *