सीनेट में अमेरिकी सांसदों के सवालों ने जुकरबर्ग को पिला दिया पानी

33 0
  • जुकरबर्ग ने भारत में 2019 में होने वाले आम चुनावों में कड़ी सतर्कता बरतने का दिया आश्‍वासन

वॉशिंगटन। फेसबुक बनाने वाले मार्क जुकरबर्ग ने डेटा लीक मामले में खुद को दोषी माना है। उन्होंने अमेरिकी सीनेट के सामने पेश होकर कहा कि अगले साल भारत और अन्य देशों में होने वाले चुनावों के दौरान डेटा चोरी कर उसका गलत इस्तेमाल नहीं होने देंगे।

कैंब्रिज एनालिटिका पर फोड़ा ठीकरा
मार्क जुकरबर्ग ने सीनेट के सामने कहा कि फेसबुक ये जांच कर रहा है कि कैंब्रिज एनालिटिका नाम की ब्रिटिश कंपनी ने फेसबुक यूजर्स की क्या गोपनीय जानकारियां जुटाई हैं। फिलहाल ये पता चला है कि ब्रिटिश कंपनी ने डेवलपर से एप खरीदकर लाखों लोगों के नाम, प्रोफाइल पिक्चर और फॉलो किए जाने वाले पेजों की जानकारी गलत तरीके से जुटा ली।

जुकरबर्ग ने भारत को लेकर और क्या कहा ?
मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि वो आश्वस्त करते हैं कि भारत में 2019 में होने वाले आम चुनावों के दौरान जबरदस्त सतर्कता बरती जाएगी। उन्होंने कहा कि 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनावों के बाद से फेसबुक की प्राथमिकता दुनिया में हो रहे चुनावों में सतर्कता बरतने की है।

जिम्मेदारी न उठा पाने की गलती मानी
मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि फेक न्यूज, हेट स्पीच, चुनावों में विदेशी हस्तक्षेप, डेटा की निजता को भंग न होने देने के लिए फेसबुक कदम नहीं उठा सका। यह बड़ी गलती है और मैं माफी मांगता हूं। जुकरबर्ग ने कहा कि मैंने फेसबुक शुरू किया। मैं इसे चलाता हूं और यहां जो कुछ होता है, उसके लिए भी मैं ही जिम्मेदार हूं।

1 घंटे तक 42 सांसदों का किया सामना
डेटा लीक होने के मामले में अमेरिकी सीनेट में पेश हुए फेसबुक संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने 1 घंटे तक 42 सांसदों के तल्ख सवालों का सामना किया। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के हस्तक्षेप से लेकर भारत और पाकिस्तान में होने वाले आम चुनावों में फेसबुक की क्या भूमिका रहेगी, इसे लेकर जुकरबर्ग से सांसद सफाई मांगते रहे।

Related Post

पीएम नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने वाला गिरफ्तार

Posted by - April 24, 2018 0
कोयंबटूर/नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने के आरोप में तमिलनाडु पुलिस ने मोहम्मद रफीक नाम के एक…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *