CWG : मिक्स्ड टीम बैडमिंटन और पुरुष टेबल टेनिस में भारत को पहली बार गोल्ड

28 0
  • कुल 10 गोल्‍ड समेत 19 मेडल जीतकर भारत पदक तालिका में तीसरे नंबर पर पहुंचा

गोल्‍ड कोस्‍ट। ऑस्ट्रेलिया के गोल्डकोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में पांचवें दिन सोमवार (9 अप्रैल) को मिक्स्ड टीम बैडमिंटन फ़ाइनल में मलेशिया को हराकर भारत ने 10वां गोल्ड जीत लिया है। इससे पहले सुबह 10 मीटर एयर राइफल के महिला वर्ग में भारत को बड़ी सफलता मिली। इस प्रतिस्‍पर्धा में मेहुली घोष ने सिल्‍वर मेडल हासिल किया, जबकि अपूर्वी चंदेला ने कांस्‍य पदक जीता है। वहीं भारतीय टेबल टेनिस टीम ने भी नाइजीरिया को 3-0 से हराकर गोल्‍ड मेडल अपने नाम किया।

मिक्‍स्‍ड टीम बै‍डमिंटन में पहली बार गोल्‍ड

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए सोमवार का दिन भी शानदार रहा। शाम को बैडमिंटन के मिक्स्ड टीम इवेंट ने भारत ने मलेशिया को 3-1 से हराकर गोल्ड मेडल पर कब्‍जा जमा लिया। इस कामयाबी में अश्विनी पोनप्पा, के श्रीकांत, सायना नेहवाल के अलावा सात्विक रैंकीरेड्डी की प्रमुख भूमिका रही। ये भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स में टीम बैडमिंटन का पहला मिक्स्ड टीम गोल्ड है।

कैसे जीता मैच ?

फाइनल मुकाबले का पहला मैच मिश्रित युगल का था। इसमें सात्विक रंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने मलेशिया की पेंग सून चान और लियू यिंग गोह से पहला गेम जीतने के बाद भारतीय जोड़ी दूसरा गेम हार गई। लेकिन तीसरे गेम में सात्विक और पोनप्पा की जोड़ी ने चान और यिंग की जोड़ी को हरा दिया। भारत ने पहला मैच 21-14, 15-21, 21-15 से जीता। दूसरे सिंगल्स मैच में दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी के. श्रीकांत ने ली चोंग वेई जैसे दिग्गज खिलाड़ी को सीधे सेटों में 21-17, 21-14 से हराया। फिर तीसरे युगल मुकाबले में सात्विक रंकीरेड्डी और चिराग को मलयेशिया के गोह वी शेम और वी किओंग तान ने 21-15 और 22-20 से हरा दिया। चौथे और निर्णायक एकल मुकाबले में भारतीय स्टार शटलर साइना नेहवाल ने मलयेशिया की 24 वर्षीय सोनिया चेह को हराकर गोल्‍ड मेडल भारत की झोली में डाल दिया। साइना ने यह मैच 21-11, 19-21, 21-9 से से जीता।

सभी खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद के शिष्‍य

खिलाड़ियों के साथ ही इस टीम की कामयाबी में द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता पुलेला गोपीचंद का भी बेहद अहम रोल रहा। जितने भी खिलाड़ी मिक्‍स्‍ड डबल्स के फाइनल में मलेशिया के खिलाफ खेले, वो सभी गोपीचंद के ही शिष्य हैं।

टेबल टेनिस में भी पुरुषों ने पहली बार किया ये कारनामा

पुरुष टेबल टेनिस टीम ने सोमवार को भारत की झोली में एक और स्‍वर्ण पदक डाल दिया। भारत ने नाइजीरिया को 3-0 से शिकस्त देकर क्लीन स्वीप किया और गोल्ड अपने नाम किया। फाइनल के शुरुआती मुकाबले में शरत कमल ने नाइजीरिया के बोडे अबिओदुन से पहला सेट गंवाने के बाद 3-1 से मैच अपने नाम किया। उन्होंने 4-11, 11-5, 11-4, 11-9 से जीत दर्ज की। वहीं साथियान गनासेकरन ने भी पहले सेट में फिसलने के बाद सेगुन तोरेओला को 3-1 से हराया। उन्होंने यह मुकाबला 10-12, 11-3, 11-3, 11-4 अपने नाम किया। इसके बाद साथियान और हरमीत देसाई की भारतीय जोड़ी ने अबिओदुन और ओलाजिदे ओमोतायो की जोड़ी को सीधे सेटों में 11-8, 11-5, 11-3 से परास्त कर टीम के लिए स्वर्ण पदक पक्का किया।

भारत तीसरे स्‍थान पर पहुंचा

पांचवें दिन सोमवार की पदक तालिका में शीर्ष 10 देशों की स्थिति इस प्रकार है। ऑस्ट्रेलिया 39 स्वर्ण और कुल 106 पदक के साथ पहले स्थान पर है, वहीं इंग्लैंड 22 स्वर्ण और कुल 63 पदकों के साथ दूसरे स्थान पर बना हुआ है। भारत 10 स्वर्ण और कुल 19 पदक के साथ अब तीसरे स्थान पहुंच गया है। भारत की झोली में अब तक 10 स्वर्ण, 4 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज (कांस्य) मेडल हैं। पांचवें दिन भारत को कुल 7 मेडल मिले, जिनमें 3 गोल्ड, 2 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज शामिल हैं।

Related Post

एक महीने पहले ही नजर आने लगते हैं हार्ट अटैक के ये लक्षण, इसे बिल्कुल न करें इग्‍नोर

Posted by - September 12, 2018 0
नई दिल्ली। दुनिया में ज्‍यादातर मौतें दिल का दौरा पड़ने से होती हैं। एक बार हार्ट अटैक आ जाने से…

दिल्ली : खाना बनाने को लेकर हुआ झगड़ा तो पत्नी को मार दी गोली, पुलिस ने किया अरेस्ट

Posted by - December 12, 2017 0
नई दिल्ली: दिल्ली के आरकेपुरम इलाके में बलराम नाम के शख्स ने अपनी पत्नी वीना की गोली मारकर हत्या कर…

16 मई : वृष राशि वाले खर्च से ज्यादा बचत पर ध्यान दें, कर्क लोगों से मेलजोल बढ़ाएं

Posted by - May 16, 2018 0
एस्ट्रो मिश्रा मेष : मेहनत का फल मीठा ही होना है। आज सफलता का जश्न मनाएंगे। साथियों के साथ बनाकर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *