चंदा कोचर छोड़ सकती हैं आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ का पद

29 0
  • अगले हफ्ते बोर्ड ले सकता है फैसला, 21 मार्च 2019 को खत्म हो रहा कोचर का कार्यकाल

नई दिल्ली। वीडियोकॉन ग्रुप को 3,250 करोड़ रुपये के लोन मामले में आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ चंदा कोचर की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। सूत्रों की मानें तो चंदा कोचर को अपना पद छोड़ना पड़ सकता है। इस हफ्ते के अंत में होने वाली बैंक बोर्ड की बैठक में इस आशय का फैसला लिया जा सकता है।

बैंक बोर्ड की हो सकती है अनौपचारिक बैठक

चंदा कोचर के पति दीपक कोचर की वीडियोकॉन ग्रुप के साथ पार्टनरशिप और ग्रुप को दिए गए लोन और भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई अभी जांच कर रही हैं। सीबीआई ने हाल ही में चंदा कोचर के देवर से भी पूछताछ की थी। सूत्रों के मुताबिक, मामले में लगातार हो रहे डेवलपमेंट को देखते हुए बैंक के इंडिपेंडेंट और नियुक्त डायरेक्टर्स के बीच एक अनौपचारिक बैठक हो सकती है। हालांकि बैंक अधिकारियों का कहना है कि बोर्ड को चंदा कोचर पर पूरा भरोसा है।

चंदा कोचर के सीईओ बने रहने पर बंटा बैंक बोर्ड

चंदा कोचर के आईसीआईसीआई बैंक के सीईओ पद पर बने रहने को लेकर बैंक बोर्ड बंट गया है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कुछ डायरेक्टरों ने चंदा के सीईओ बने रहने का विरोध किया। हालांकि बैंक ने रिपोर्ट का खंडन किया है। चंदा का कार्यकाल 21 मार्च 2019 को खत्म होगा। वे आईसीआईसीआई बैंक की मैनेजिंग डायरेक्टर भी हैं।

चंदा कोचर खुद छोड़ सकती हैं पद

एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार, एक सूत्र ने बताया, ‘बोर्ड ने जल्दबाजी की या फिर काफी वक्त लगाया, इस पर अलग-अलग विचार हो सकते हैं, लेकिन तथ्य यह है कि जांच की गई है और बोर्ड ने अपनी सीईओ पर भरोसा जताया है। हालांकि, कंपनी के हित को देखते हुए अगर चंदा कोचर खुद पद छोड़ती हैं तो यह उनका व्यक्तिगत फैसला होगा।

बोर्ड में किया गया बदलाव

चंदा कोचर के पद छोड़ने की अटकलों को इसलिए भी बल मिल रहा है क्योंकि सरकार ने हाल ही में बैंक के बोर्ड में अपना एक सदस्य नियुक्त किया है। सरकार ने लोक रंजन को बैंक के फाइनेंशियल सर्विसेज विभाग का ज्वाइंट सेक्रेटरी नियुक्त किया है। उन्‍होंने 5 अप्रैल को अमित अग्रवाल की जगह ली। साफ है कि सरकार इस मामले को लेकर सहज नहीं है। उधर, बैंक अधिकारियों ने बोर्ड में बदलाव को रूटीन एक्सरसाइज बताया है।

Related Post

जनता दरबार में सीएम रावत ने खोया आपा, शिक्षिका को किया सस्पेंड

Posted by - June 29, 2018 0
ट्रांसफर अर्जी लेकर पहुंची शिक्षिका ने सुनवाई न होने पर उत्तराखंड के मुख्‍यमंत्री को कहा चोर देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *