इस्लाम अपनाने वाले ब्राह्मण परिवार का आरोप – पड़ोसी कर रहे हैं उत्पीड़न

100 0
  • आठ साल पहले बांदा जिले के बबेरू कस्‍बे के रहने वाले घनश्‍याम ने किया था धर्म परिवर्तन
  • शिकायत के बाद उपजिलाधिकारी पहुंचे पीडि़त के घर, सुरक्षा के लिए पुलिस को किया सतर्क

बांदा। जिले के बबेरू कस्बे में एक ब्राह्मण परिवार ने आठ साल पहले इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया था, लेकिन पड़ोसियों को अब जाकर उसके धर्म परिवर्तन की जानकारी मिली। इसके बाद से इस परिवार का जीना मुश्किल हो गया है। परिवार ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। प्रशासन की पहल पर पुलिस ने इस मामले का संज्ञान लिया है।

उपजिलाधिकारी पहुंचे पीडि़त के घर

बबेरू के उपजिलाधिकारी अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने सोमवार (9 अप्रैल) को बताया कि मूलरूप से पतवन गांव के रहने वाले घनश्याम शुक्ला ने 2011 में स्वेच्छा से इस्लाम धर्म स्वीकार किया था। इसके बाद उनकी पत्नी कालिन्द्री ने भी 2013 में धर्म परिवर्तन कर लिया। यह परिवार बबेरू कस्बे में मकान खरीद कर रह रहा है। घनश्याम की शिकायत के बाद एसडीएम पुलिस बल के साथ रविवार को उनके घर पहुंचे। उन्‍होंने बताया कि परिवार की सुरक्षा के लिए बबेरू पुलिस को सतर्क कर दिया गया है।

क्‍यों अपनाया इस्‍लाम ?

घनश्याम बताते हैं कि शादी के बाद उनके परिवार (माता-पिता और भाई) ने उन्‍हें घर से निकाल दिया था। वह मानसिक रूप से बीमार रहने लगा। इसी दौरान किसी ने उन्‍हें हरदौली के ‘चापे शाह बाबा’ की मजार जाने की राय दी। मजार पहुंचा तो साक्षात चापे शाह बाबा का दीदार हुआ। उनके हुक्म पर ही उसने इस्लाम धर्म कुबूल किया।

किसी को नहीं दी धर्म बदलने की सूचना

घनश्‍याम ने बताया कि धर्म परिवर्तन की सूचना उन्‍होंने अपने किसी पड़ोसी तक को नहीं दी थी, लेकिन अब पड़ोसियों को उनके धर्म बदलने की जानकारी हो गई है। इसके बाद से ही वे उनके पूरे परिवार का उत्पीड़न कर रहे हैं।

Related Post

नवाजुद्दीन ने किसके लिए लिखा – ‘ये लड़की मेरे रोम-रोम में है…’ !

Posted by - July 19, 2018 0
मुंबई। बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी वैसे तो अपनी दमदार एक्टिंग की वजह से चर्चा में रहते हैं, लेकिन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *