आज भी जेल में ही कटेगी सलमान की रात, जमानत पर फैसला कल

29 0
  • जोधपुर की सेशन कोर्ट ने सलमान खान की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा

जोधपुर। बॉलीवुड स्टार अभिनेता सलमान खान काले हिरण के शिकार मामले में जोधपुर की अदालत ने 5 साल की सजा सुनाई है। शुक्रवार को सलमान खान की जमानत याचिका पर सेशन कोर्ट में सुनवाई हुई, लेकिन सुनवाई के बाद जज ने फैसला सुरक्षित रख लिया। अब कोर्ट शनिवार (7 अप्रैल) को फैसला सुनाएगा। ऐसे में सलमान खान को अब शुक्रवार की रात भी जेल में ही बितानी पड़ेगी।

डेढ़ घंटे तक हुई बहस

सेशन कोर्ट के जज रवींद्र कुमार जोशी ने शुक्रवार को सलमान खान की जमानत याचिका पर सुनवाई की। कोर्ट में करीब डेढ़ घंटे तक बहस हुई। बहस पूरी हो जाने के बाद जज ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। अब शनिवार सुबह 10.30 बजे जज फैसला सुनाएंगे, तब तक सलमान को जेल में ही रहना पड़ेगा।

क्‍या कहा वकीलों ने ?

जमानत पर बहस के दौरान सलमान के वकीलों ने जमानत से पहले उनकी सजा टालने की गुहार लगाई। वकीलों ने कहा कि अन्य आरोपियों की तरह सलमान खान को भी संदेह का लाभ मिलना चाहिए। इसके अलावा उनके वकील का कहना था कि इस फैसले को आने में 20 साल का समय लगा, ऐसे में उनके ये 20 साल भी सजा से कम नहीं थे। यही नहीं, वकीलों कहा कि सलमान पूरे मामले के दौरान कानूनी प्रक्रिया में हर तरह से सहयोग किया। यह आधार भी उनकी जमानत के लिए पर्याप्‍त है।

कौन-कौन मौजूद था कोर्ट में ?

कोर्ट में शुक्रवार को जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान सलमान खान की दोनों बहनों अलवीरा और अर्पिता के अलावा सलमान के बॉडीगार्ड शेरा भी मौजूद थे। वहीं कोर्ट के बाहर बिश्नोई समाज के लोग भी इकट्ठा हुए थे। सलमान खान के वकील को भरोसा था कि उन्‍हें आज जमानत मिल जाएगी।

सलमान के वकील को धमकी वाले फोन
सलमान खान के वकील महेश बोरा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उन्हें कल से ही धमकी भरे एसएमएस और इंटरनेट कॉल्स आ रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि कुछ लोगों ने धमकी दी है कि वह सलमान की जमानत याचिका पर सुनवाई के लिए पेश होने कोर्ट न जाएं। बोरा ने कोर्ट जाने से पहले मीडिया से बातचीत की।

क्या है मामला ?
काला हिरण शिकार का ये मामला 27-28 सितंबर और 1 और 2 अक्टूबर 1998 का है। ‘हम साथ साथ हैं’ फिल्म की शूटिंग के लिए सलमान, सैफ अली खान, तब्बू और नीलम जोधपुर गए थे। कांकाणी गांव में रहने वाले बिश्नोई समुदाय ने वन विभाग से शिकायत की थी कि सलमान ने दो काले हिरणों का शिकार किया। इसके बाद 2 अक्टूबर, 1998 को वन विभाग ने केस दर्ज कराया।

और क्या आरोप थे ?
सलमान खान पर आरोप था कि उन्होंने जिस बंदूक से काले हिरणों का शिकार किया, उसका लाइसेंस उनके पास नहीं था। इस मामले में जोधपुर हाईकोर्ट ने जनवरी 2017 में बरी कर दिया था। इसी मामले से जुड़े दो और केस में भी सलमान को हाईकोर्ट ने 2016 में सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था। इस फैसले के खिलाफ राजस्थान सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी थी।

मामले में कब क्या हुआ ?
2 अक्टूबर 1998 – वन विभाग ने काला हिरण शिकार मामले में केस दर्ज कराया
आरोपी – सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे, नीलम, दुष्यंत सिंह, दिनेश गावरे। इनमें से दिनेश गावरे फरार। गावरे सलमान का असिस्टेंट था।
चश्मदीद गवाह – चार, छोगाराम, पूनम चंद, शेराराम, मांगीलाल
9 नवंबर 2000 – सीजेएम कोर्ट ने केस का संज्ञान लिया
19 फरवरी 2006 – आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किए गए
23 मार्च 2013 – ट्रायल कोर्ट में सभी आरोपियों के खिलाफ नए सिरे से आरोप तय
23 मई 2013 – सीजेएम कोर्ट में ट्रायल शुरू
कोर्ट में गवाही – 51 में से 28 ने आरोपियों के खिलाफ गवाही दी
13 जनवरी 2017 – ट्रायल कोर्ट में गवाहियां पूरी हुईं
27 जनवरी 2017 – सभी आरोपियों ने कोर्ट में बयान दर्ज कराए
13 सितंबर 2017 – अभियोजन पक्ष ने कोर्ट में अपनी दलील रखनी शुरू की
28 अक्टूबर 2017 – बचाव पक्ष ने कोर्ट में दलील रखनी शुरू की
24 मार्च 2018 – ट्रायल कोर्ट में अभियोजन और बचाव पक्ष की दलीलें पूरी
28 मार्च 2018 – ट्रायल कोर्ट में काला हिरण शिकार मामले में फैसला सुरक्षित
5 अप्रैल 2018 – सीजेएम कोर्ट ने सलमान खान को 5 साल कैद और 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई

Related Post

SC का फैसला : अब राज्य सरकारें दे सकेंगी एससी/एसटी को प्रमोशन में आरक्षण

Posted by - September 26, 2018 0
नई दिल्‍ली। सरकारी नौकरी में एससी/एसटी को प्रमोशन में आरक्षण मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार (26 सितंबर) को बड़ा…

हैवानियत : दिल्ली में 8 महीने की मासूम से चचेरे भाई ने किया रेप

Posted by - January 30, 2018 0
बच्‍ची के माता-पिता उसे रिश्‍तेदार के पास छोड़कर गए थे काम पर नई दिल्‍ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आठ महीने…

शुगर से पीड़ित प्रेग्नेंट महिलाओं के बच्चे को होता है यह खतरा, जानकर रह जाएंगे हैरान

Posted by - October 18, 2018 0
टेक्सास। प्रेग्नेंट महिला के मधुमेह से पीड़ित होने पर उसके बच्चों में आटिज्म स्पेक्ट्रम डिसॉर्डर (एएसडी) का खतरा बढ़ जाता…

माल्या ने शेल कंपनियों के जरिए की 500 करोड़ की मनी लांड्रिंग : ईडी

Posted by - October 5, 2017 0
भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की गिरफ्तारी से पहले प्रवर्तन निदेशालय ने यूके की अदालत में एफिडेविट दायर कर दावा किया था कि 7…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *