एमपी अजब है ! पांच संतों को शिवराज सरकार ने दिया राज्य मंत्री का दर्जा

36 0

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार अपने यहां पर्यटकों को लुभाने के लिए जो विज्ञापन देता है, उसमें राज्य को अजब और गजब बताया जाता है। बात सही भी है। यहां के सीएम शिवराज सिंह चौहान अजब-गजब फैसले लेने के लिए आए दिन चर्चा में रहते हैं। उनका ताजा फैसला भी कम अजब-गजब नहीं है।

शिवराज ने क्या फैसला किया ?
शिवराज सिंह सरकार ने पांच संतों को राज्य मंत्री का दर्जा दे दिया है। इनमें कम्प्यूटर बाबा, भय्यूजी महाराज, नर्मदानंदजी, हरिहरानंदजी और पं. योगेंद्र महंत हैं।

क्यों दिया राज्य मंत्री का दर्जा ?
इन संतों की एक कमेटी बनाई गई है। ये कमेटी नर्मदा नदी के किनारे पौधे लगाने, जल संरक्षण और साफ-सफाई के बारे में जन जागरण का काम करेगी। सरकार के मुताबिक कमेटी का सदस्य होने के नाते पांचों संतों को राज्य मंत्री का दर्जा दिया गया है।

कांग्रेस ने साधा निशाना
पांच संतों को राज्य मंत्री का दर्जा दिए जाने पर कांग्रेस ने निशाना साधा है। कांग्रेस के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी के मुताबिक राजनीतिक फायदे के लिए शिवराज सरकार ने ये फैसला किया है। पंकज ने आरोप लगाया कि सरकार नर्मदा नदी को बचाने की दिशा में काम करती नहीं हैं। कांग्रेस ने संतों की कमेटी से मांग की है कि वो देखे कि शिवराज सिंह की सरकार ने नर्मदा के किनारे जो छह करोड़ पौधे लगाने का दावा किया था, उनकी हालत कैसी है।

Related Post

हाईकोर्ट की परीक्षा में सेटिंग का भंडाफोड़, गोरखपुर में 13 लोग गिरफ्तार

Posted by - November 13, 2017 0
इलाहाबाद में गिरफ़्तारी होने के बाद खुली गोरखपुर में परीक्षा में सेंधमारी की पोल गोरखपुर। हाईकोर्ट के ग्रुप सी और…

मोदी ने विज्ञापनों पर खर्चे 4880 करोड़, इतने में करोड़ों बच्चों को 1 साल मिलता मिड डे मील

Posted by - August 10, 2018 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी की सरकार ने 4 सालों में अलग-अलग मीडिया माध्यमों में विज्ञापनों पर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *