चारा घोटाले की तरह दिल्ली में भी बाइक और टेम्पो से हुई अनाज की ढुलाई

20 0
  • CAG की रिपोर्ट में दिल्ली में राशन ढुलाई को लेकर बड़े पैमाने पर गड़बड़ी का हुआ ख़ुलासा
  • वर्ष 2016-17 में जिन 207 गाड़ियों से राशन की ढुलाई की गई, उनमें 47 के रजिस्‍ट्रेशन नहीं

नई दिल्ली। कंट्रोलर एंड ऑडिटर जनरल (कैग) की रिपोर्ट में दिल्ली में राशन को लेकर बड़ी गड़बड़ी का ख़ुलासा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली में राशन ढुलाई के लिए कागजों में जिन गाड़ियों का जिक्र किया गया है, जांच के दौरान पता चला कि वे स्कूटर और बाइक थे। रिपोर्ट में दिल्लीवालों को राशन बांटने पर ही संदेह जताया गया है।

दिल्ली सरकार के कामकाज पर प्रश्नचिह्न

वित्त वर्ष 2016-17 में दिल्ली की केजरीवाल सरकार की ऑडिट रिपोर्ट पर भी कैग ने प्रश्नचिह्न लगाया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान राशन वितरण केंद्रों पर 1589 कुंतल माल की ढुलाई के लिए 9 ऐसी गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया है, जिनका रजिस्ट्रेशन नंबर या तो मोटर साइकिल का था या फिर स्कूटर का। एफ़सीआई गोदाम से राशन वितरण केंद्रों तक राशन की ढुलाई के लिए 8 ऐसी गाड़ियां इस्तेमाल हुईं, जिनका रजिस्ट्रेशन नंबर बस, टेम्‍पो और स्कूटर-बाइक का था।

42 गाडि़यों के रजिस्‍ट्रेशन ही नहीं

कैग रिपोर्ट में कहा गया है कि इन गाड़ियों पर इतनी बड़ी मात्रा में अनाज की ढुलाई नहीं हो सकती। साथ ही रिपोर्ट के मुताबिक, 2016-17 में जिन 207 गाड़ियों को राशन ढुलाई के काम में लाया गया, उनमें 42 के रजिस्ट्रेशन ही परिवहन विभाग में नहीं थे। इसके आधार पर कैग ने अपनी रिपोर्ट में संदेह जताया है कि राशन का वितरण हुआ ही नहीं। कैग ने अनाज चोरी की आशंका से भी इनकार नहीं किया है।

मामले की सीबीआई जांच हो : कांग्रेस

अब इस मामले पर सियासत भी गरमा गई है। कांग्रेस ने इसकी सीबीआई जांच की मांग की है, वहीं बीजेपी ने इसमें सरकार की मिलीभगत बताया। कांग्रेस नेता जेपी अग्रवाल ने पत्रकारों से कहा, ‘किसी भी दुपहिया वाहन से माल की ढुलाई करना असंभव है। यह इस बात की ओर इशारा करता है कि लोगों तक अनाज पहुंचा नहीं। वहीं, बीजेपी बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि जो सरकार भ्रष्टाचार मिटाने का दावा करती है, उसी की नाक के नीचे यह घोटाला हुआ। इसका मतलब है कि सरकार भी इसमें शामिल है।

केजरीवाल बोले – कड़ी कार्रवाई होगी

कैग की रिपोर्ट आने के बाद मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा है कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी नहीं बख़्शा जाएगा। केजरीवाल ने ट्वीट कर एलजी पर निशाना साधते हुए कहा कि घर-घर राशन की डिलीवरी की योजना को ख़ारिज कर उप राज्यपाल इन चीज़ों को संरक्षण देने की कोशिश कर रहे हैं। पूरा राशन सिस्टम माफ़िया की जद में है, जिन्हें राजनीतिक संरक्षण मिला हुआ है।

Related Post

लखनऊ की नौ महिलाओं को मिला ‘अवध रत्न सम्मान’

Posted by - March 18, 2018 0
अपर्णा यादव ने विभिन्‍न क्षेत्रों में महत्‍वपूर्ण योगदान देने वाली महिलाओं को किया सम्‍मानित नवसंवत्सर पर मल्लिका-ए-अवध क्‍वींस ग्रुप ने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *