…और चुनाव के चक्कर में जब सड़क पर फंस गए बजरंग बली !

172 0

बेंगलुरु। बजरंगी भाईजान फिल्म तो आपने देखी होगी। उस फिल्म के हीरो के बतौर सलमान खान हर मुश्किल से पार पा जाते हैं, लेकिन असली बजरंगी यानी हनुमानजी बेचारे कर्नाटक में होने जा रहे चुनाव के चक्कर में ऐसा फंसे कि सड़क पर ही उन्हें लेटे हुए 48 घंटे गुजारने पड़े।

क्या है मामला ?
हनुमान जी की दुनिया की सबसे बड़ी कही जा रही मूर्ति को कर्नाटक के कोलार से बेंगलुरु के कचराकनहल्ली ले जाया जा रहा था। 62 फुट ऊंची, 12 फुट चौड़ी और 750 टन की हनुमान मूर्ति विशेष ट्रेलर पर ले जाई जा रही थी। नेशनल हाईवे नंबर 48 से होकर ट्रेलर गुजर रहा था, तभी अचानक पुलिस आ धमकी। पुलिस ने कहा कि मूर्ति ले नहीं जा सकते, क्योंकि ये आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला है। बस फिर क्या था, मूर्ति समेत ट्रेलर जहां का तहां रुक गया और हनुमान की मूर्ति इस ट्रेलर में लेटी हुई इंतजार करने लगी कि पुलिस कब ले जाने की मंजूरी दे।

48 घंटे बाद मिली मंजूरी
जिस ट्रेलर से हनुमान जी की मूर्ति ले जाई जा रही थी, उसमें 300 पहिए लगे थे। जाहिर है, इस ट्रेलर के रुक जाने की वजह से हाईवे पर जाम लग गया। बहरहाल, जब हंगामा मचा, तो चुनाव आयोग ने दखल दिया जिसके बाद पुलिस ने मूर्ति को ले जाने की मंजूरी दी।

हनुमान मूर्ति की खास बातें
ऊंचाई : 62 फुट
चौड़ाई : 12 फुट
वजन : 750 टन
मूर्ति की कीमत : 10 करोड़

बाहुबली की मूर्ति से भी बड़ी है हनुमान प्रतिमा
बता दें कि जिस हनुमान प्रतिमा को पुलिस ने रोका था, वो कर्नाटक के हासन जिले के श्रवणबेलगोला में लगी गोमतेश्वर बाहुबली की मूर्ति से भी ज्यादा ऊंची है। गोमतेश्वर की मूर्ति की ऊंचाई 57 फुट है, जबकि हनुमान की यह प्रतिमा 62 फुट ऊंची है। इसे दुनिया में सबसे बड़ी हनुमान मूर्ति बताया जा रहा है।

Related Post

शारीरिक संबंध बनाने से मना किया तो कर दी बीवी की हत्या

Posted by - November 17, 2017 0
हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के ज्योतिसर के जोगनाखेड़ा गांव में पत्नी-पत्नी के बीच हत्या की सनसनीखेज वारदात सामने आई है.…

दोस्त के बीमार होने पर अस्पताल के बाहर खड़े होकर इंतजार कर रहे थे ये बेजुबान, वायरल हो गई स्टोरी

Posted by - December 18, 2018 0
ब्रासीलिया। कुत्ते इंसान के सबसे अच्छे दोस्त होते हैं। हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *