जानिए, आखिर क्यों अंबेडकर के नाम के साथ जुड़ेगा ‘राम’ का नाम ?

58 0

लखनऊ। यूपी में अब डॉ. भीमराव अंबेडकर के नाम के साथ ‘रामजी’ नाम जोड़कर लिखा जाएगा। अंग्रेजी में तो अंबेडकर का नाम डॉ. बी.आर. अंबेडकर लिखा जाता है, लेकिन यूपी के गवर्नर की सलाह के बाद उनके हिंदी नाम में अब रामजी जोड़ा जा रहा है।

गवर्नर ने क्यों दी सलाह ?

यूपी के गवर्नर राम नाईक संसद गए थे, जहां संविधान की मूल प्रति रखी है। इस मूल प्रति में संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. अंबेडकर और अन्य सदस्यों के दस्तखत हैं। राम नाईक ने देखा कि डॉ. अंबेडकर ने हिंदी में जो दस्तखत किए हैं, उसमें ‘भीमराव रामजी आंबेडकर’ लिखा है। इसके बाद उन्होंने यही नाम हर जगह इस्तेमाल करने की सलाह राज्य सरकार को दी थी। सामान्य प्रशासन ने इस बारे में अब आदेश जारी कर दिया है।

अंबेडकर की जगह आंबेडकर भी लिखा जाएगा
गवर्नर ने राज्य सरकार को ये सलाह भी दी थी कि अंबेडकर की जगह बाबा साहेब का नाम आंबेडकर लिखा जाए। ये सलाह भी सरकार ने मान ली है। यानी अब यूपी में बाबा साहेब का पूरा नाम ‘भीमराव रामजी आंबेडकर’ लिखा जाएगा।

Related Post

घुसपैठियों पर ममता बनर्जी का दोहरा रवैया, पहले कहा था- निकाल बाहर करो

Posted by - August 1, 2018 0
नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने असम में एनआरसी यानी नेशनल रजिस्टर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *