सोनिया गांधी से मिलीं ममता, कहा – क्षेत्रीय दलों का समर्थन करे कांग्रेस

51 0
  • बोलीं – मैं चाहती हूं भाजपा के खिलाफ सिर्फ एक प्रत्‍याशी खड़ा हो, जिसे सभी पार्टियां समर्थन दें
  • ममता बोलीं – कर्नाटक में कांग्रेस, यूपी में माया-अखिलेश और बिहार में लालू जीतें, भाजपा बाहर हो

नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को यूपीए की चेयरमैन सोनिया गांधी से मुलाकात की। उन्होंने कहा, ‘हम चाहते हैं कर्नाटक में कांग्रेस, यूपी में माया-अखिलेश जीतें और भाजपा देश की राजनीति से बाहर हो।’ 10 जनपथ में सोनिया से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में ममता ने 2019 लोकसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन का सीधा संकेत दिया।

भाजपा के खिलाफ सिर्फ एक प्रत्‍याशी हो

ममता ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि कांग्रेस क्षेत्रीय दलों को मदद दे ताकि भाजपा से सीधी लड़ाई लड़ी जा सके। मैं चाहती हूं कि भाजपा के खिलाफ सिर्फ एक ही उम्मीदवार खड़ा हो जिसे सभी पार्टियों का समर्थन हो। ऐसा होगा तभी भाजपा को राजनीतिक रूप से खत्म किया जा सकेगा। उन्होंने कहा, ‘जब भी मैं यहां आती हूं, तो सोनिया गांधी से मिलती हूं। हमारे उनसे अच्छे संबंध हैं। मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की, राजनीतिक चर्चा भी हुई।’

कांग्रेस हमारी मुहिम में साथ दे

सोनिया से मुलाकात के बाद ममता ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि कर्नाटक में कांग्रेस जीते क्‍योंकि कांग्रेस वहां मजबूत है। हम चाहते हैं कि यूपी में अखिलेश और मायावती जीतें और लालू जी बिहार में जीतें।’ उन्‍होंने कहा, ‘देश में लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। बीजेपी को देश की राजनीति से जाना चाहिए। बीजेपी जनता के लिए कोई काम नहीं कर रही है। हम चाहते हैं कि हमारी मुहिम में कांग्रेस भी साथ दे।’

ममता बनर्जी ने बीजेपी के बागी नेताओं अरुण शौरी, यशवंत सिन्हा व शत्रुघ्न सिन्हा से भी मुलाकात की

अरुण शौरी ने ममता की मुहिम का समर्थन किया

ममता बनर्जी ने बुधवार को ने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी से भी मुलाकात की। ममता से मुलाकात के बाद शौरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुकाबला करने के लिए ममता ने सही राह पकड़ी है। शौरी ने कहा, ‘भाजपा के प्रत्येक प्रत्याशी के खिलाफ एक प्रत्याशी का फार्मूला यदि अमल में लाया जाएगा तो विपक्ष 69 फीसदी मतों को अपने पक्ष में कर सकता है।’

यशवंत और शत्रुघ्‍न सिन्‍हा से भी हुई मुलाकात

इससे पहले ममता बनर्जी से भाजपा के असंतुष्ट नेता यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा ने मुलाकात की। उन्होंने मोदी सरकार के खिलाफ सभी क्षेत्रीय ताकतों को एकजुट करने के प्रयास करने के लिए ममता की प्रशंसा की। हालांकि यशवंत सिन्हा ने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह या शत्रुघ्न भाजपा के खिलाफ खड़ी की जा रही ताकत के साथ आएंगे या नहीं। उन्होंने कहा, ‘ममता हमारी पुरानी काबीना सहयोगी हैं। उनके व्यक्तित्व से सभी परिचित हैं। देश को बचाने के लिए उन्होंने जो जिम्मेदारी उठाई है, वह प्रशंसनीय है। भविष्य में भी हम उनका समर्थन करेंगे।’

Related Post

इस देश में पुरुषों के बराबर है महिलाओं की सैलरी, सरकार ने बनाया है कानून

Posted by - September 24, 2018 0
रेकजाविक (आइसलैंड)। हमारे देश में आमतौर पर महिलाओं की सैलरी पुरुषों से कम होती है, लेकिन आज हम आपको एक…

पीएम मोदी विश्व के तीसरे सबसे लोकप्रिय नेता, ट्रंप-जिनपिंग को पछाड़ा

Posted by - January 12, 2018 0
इंटरनेशनल रेटिंग एजेंसी गैलप के सर्वे में 53,769 लोगों ने दी अपनी राय 50 अलग-अलग देशों में हुए सर्वे में पीएम…

त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान

Posted by - January 18, 2018 0
त्रिपुरा में 18 फरवरी, मेघालय और नागालैंड में 27 फरवरी को वोटिंग, नतीजे 3 मार्च को नई दिल्ली। मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *