सपा-बीएसपी में हनीमून खत्म ? यूपी के अन्य उपचुनावों में साथ नहीं देंगी माया

64 0

लखनऊ। गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर सपा को समर्थन देने वाली बीएसपी अब कैराना लोकसभा सीट और नूरपुर विधानसभा सीटों पर सपा को समर्थन नहीं देगी। ये एलान बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने किया है। माना जा रहा है कि राज्यसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार भीमराव अंबेडकर के हारने से नाराज मायावती ने ये कदम उठाया है।

पहले दिया एका का बयान, फिर पलटीं
मायावती ने सोमवार को बीएसपी के नेताओं और जिलाध्यक्षों के साथ बैठक से पहले कहा था कि देश और प्रदेश की जनता के हित के लिए सपा और बीएसपी को मिलकर काम करना होगा। उन्होंने हालांकि ये भी कहा था कि अखिलेश यादव अनाड़ी हैं। अखिलेश को राजा भैया पर भरोसा नहीं करना चाहिए था और बीएसपी प्रत्याशी को जिताने के लिए जोर लगाना चाहिए था। बैठक के बाद मायावती ने बयान दिया कि सपा को यूपी में होने वाले दो उपचुनावों में उनकी पार्टी मदद नहीं देगी।

मायावती के बयान के मायने क्या ?
बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बयान का साफ मतलब है कि 2019 में होने वाले आम चुनावों से पहले यूपी में होने वाले किसी भी उपचुनाव में सपा को बीएसपी का साथ नहीं मिलेगा।

गठबंधन बनने से पहले ही टूटेगा ?
मायावती के नए फैसले से सपा के खेमे में निराशा के आसार हैं। साथ ही 2019 के आते-आते बीएसपी और सपा के बीच गठबंधन बनने से पहले ही टूटने का खतरा भी मंडराता दिख रहा है।

Related Post

ग्रामीण इलाकों में अधर में बच्चों की पढ़ाई-लिखाई, हालात करते हैं सोचने पर मजबूर

Posted by - November 10, 2018 0
नई दिल्ली। भारत के ग्रामीण इलाकों में बच्चों की पढ़ाई और लिखाई अधर में है। सरकारी स्कूलों में बच्चों का…

कीमोथेरेपी करा रहीं सोनाली बेंद्रे को ये हुई थी दिक्कतें, उनकी तरह आप भी ऐसे करें सामना

Posted by - November 12, 2018 0
नई दिल्ली। कैंसर के इलाज के लिए डॉक्टर कीमोथेरेपी कराने की सलाह देते हैं। मशहूर सिने एक्टर सोनाली बेंद्रे भी…

सड़क हादसे में मृतक की ‘भविष्य की संभावनाओं’ के आधार पर मिलेगा मुआवजा

Posted by - November 1, 2017 0
सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्‍यीय संविधान पीठ ने सुनाया अहम फैसला मृतक की नौकरी या व्‍यवसाय से होने वाली आय को…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *