नवरात्र के पांचवें दिन करें स्कन्दमाता की पूजा, होंगे सारे संकट दूर

81 0

नवरात्र के पांचवे दिन मां स्कंद की पूजा-आराधना की जाती है इनकी आराधना करने से भक्तों को संतान और धन की प्राप्ति होती है। माता की पूजा से मोक्ष की प्राप्ति होती है. भगवान स्कन्द कुमार कात्तिर्केय नाम से भी जाने जाते हैं। ये प्रसिद्ध देवासुर-संग्राम में देवताओं के सेनापति बने थे। इन्हीं भगवान स्कन्द की माता होने के कारण मां के इस पांचवें स्वरूप को स्कन्दमाता के नाम से जाना जाता है।

इन मंत्रों का करें उचारण

सिंहसनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया।

शुभदास्तु सदा देवी स्कंदमाता यशस्विनी॥

अर्थात् सिंह पर सवार रहने वाली और अपने दो हाथों में कमल का फूल धारण करने वाली यशस्विनी स्कंदमाता हमारे लिये शुभदायी हो।

पूजाविधि : नवरात्र के पांचवें दिन की पूजा में श्वेत रंग के वस्त्रों का प्रयोग कर सकते हैं। यह दिन बुध ग्रह से संबंधित शांति पूजा के लिए सर्वोत्तम है। पूजा में कुमकुम, अक्षत से पूजा करें। चंदन लगाएं। तुलसी माता के सामने दीपक जलाएं।

Related Post

वनटांगिया बस्ती के लोग बोले – सीएम नहीं आए तो नहीं मनाएंगे दिवाली

Posted by - October 4, 2017 0
2007 से ही कुसम्‍ही में वनटांगिया मजदूरों के बीच सांसद के रूप में जाते रहे हैं योगी आदित्‍यनाथ गोरखपुर। कुसम्ही…

ग्राम प्रधान ने घर में घुसकर नाबालिग लड़की से किया दुष्कर्म

Posted by - April 21, 2018 0
मुकदमा दर्ज, आरोपी ग्राम प्रधान और उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल महराजगंज जिले के पुरन्दरपुर क्षेत्र…

दावोस पहुंचे पीएम मोदी, वैश्विक बिजनेस समुदाय को करेंगे संबोधित

Posted by - January 22, 2018 0
डब्ल्यूईएफ : अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ भविष्य में भारत के संबंधों पर अपना विजन सामने रखेंगे मोदी दावोस। प्रधानमंत्री नरेंद्र…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *