डेटा लीक मामले में फेसबुक को तगड़ा झटका, जुकरबर्ग के 395 अरब रुपये डूबे

17 0
  • कैम्ब्रिज एनालिटिकाफर्म पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के निजी जानकारी चुराने के हैं आरोप
  • शेयर करीब 7 फीसदी टूटने से कंपनी के फेसबुक के मार्केट वैल्यू में करीब 35 अरब डॉलर तक की गिरावट

नई दिल्‍ली। फेसबुक में डेटा लीक का मामला सामने आने से पूरी दुनिया हैरान हो गई है। करोड़ों यूजर्स के डेटा लीक मामले में फेसबुक को भी तगड़ा झटका लगा है। सोमवार को इस अमेरिकी सोशल मीडिया के शेयर करीब 7 फीसदी टूट गए और कंपनी के मार्केट वैल्यू में करीब 35 अरब डॉलर तक की गिरावट आ गई। यही नहीं, शेयर की कीमत घटने की वजह से फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग को एक ही दिन में 6.06 अरब डॉलर (करीब 395 अरब रुपये) का घाटा हुआ है।

क्या है मामला

गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की मदद करने वाली एक फर्म ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के निजी जानकारी चुराने के आरोप लगे हैं। बताया जा रहा कि इस जानकारी को चुनाव के दौरान इस्तेमाल किया गया। खबर आने पर अमेरिकी और यूरोपीय सांसदों ने फेसबुक इंक से जवाब मांगा। वे जानना चाहते हैं कि ब्रिटेन की कैंब्रिज एनालिटिका ने डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जीतने में किस तरह से मदद की?

सख्त रेग्युलेशन का बन सकता है दबाव

उल्‍लेखनीय है कि फेसबुक पहले ही यह बता चुका है कि 2016 में अमेरिका में राष्‍ट्रपति चुनाव से पहले उसके प्लेटफॉर्म का, प्रचार-प्रसार करने वाले रूसी लोगों ने कैसे इस्तेमाल किया था, लेकिन इसे लेकर जुकरबर्ग कभी सवालों के घेरे में नहीं आए थे। इस मामले से सोशल नेटवर्किंग साइट्स के सख्त रेग्युलेशन का दबाव भी बन सकता है। ब्रिटेन के एक सांसद ने सोमवार को कहा कि देश के प्राइवेसी वॉचडॉग को अधिक ताकत मिलनी चाहिए।

Related Post

अब वैश्विक आतंकी फंडिंग की वॉचलिस्ट में शामिल होगा पाक

Posted by - February 14, 2018 0
अमेरिका कर रहा है पाकिस्तान को आतंक समर्थित देशों की लिस्ट में डालने की तैयारी वाशिंगटन। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा…

चीनी से ज्यादा खतरनाक है आर्टीफिशियल स्वीटनर, ब्रेन को भी पहुंचाता है नुकसान

Posted by - August 9, 2018 0
नई दिल्ली। क्या आप भी खाने-पीने की चीजों में आर्टीफिशियल स्वीटनर यानी कृत्रिम मिठास का इस्तेमाल करते हैं? अगर हां,…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *