आइंस्टीन नहीं, वेद ज्यादा जानकारी से भरे ! मोदी के विज्ञान मंत्री का गजब दावा

65 0

इंफाल/नई दिल्ली। मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह ने डार्विन की थ्योरी को गलत बताया था, जिसे लेकर खूब विवाद हुआ था। अब मोदी के ही एक और मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का दावा है कि अलबर्ट आइंस्टीन के  E=mc² थ्योरी से बेहतर थ्योरी वेदों में है। बता दें कि डॉ. हर्षवर्धन केंद्र में विज्ञान और तकनीकी मंत्रालय संभालते हैं।

वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग के हवाले से किया दावा
शुक्रवार को इंफाल में शुरू हुई 105वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस में अपने संबोधन में डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि हाल ही में हमने मशहूर अंतरिक्ष वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग को खोया है। हॉकिंग ने कहा था कि हमारे वेदों में ऐसी थ्योरी हो सकती है, जो आइंस्टीन के E=mc² की थ्योरी से बेहतर है। हालांकि, उनके बयान को खुद उनके मंत्रालय से जारी विज्ञप्ति में नहीं दिया गया है।

सवाल उठने पर दी सफाई
डॉ. हर्षवर्धन ने अपने इस बयान पर सवाल उठने के बाद ट्वीट कर सफाई दी कि हिंदुत्व में जो कुछ भी संस्कृति या पूजा वगैरह की पद्धति हैं, वो सभी वैज्ञानिक हैं। भारत ने प्राचीन वैज्ञानिक उपलब्धियों के सहारे चलकर ही आधुनिकता हासिल की है। वहीं, दिल्ली में जब पत्रकारों ने उनसे इस बारे में पूछा तो हर्षवर्धन ने कहा कि हॉकिंग ने जो कहा वो रिकॉर्ड में है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि आप इस बारे में तलाश कीजिए। मैं तो इसका स्रोत बता ही दूंगा।

स्टीफन हॉकिंग ने क्या वाकई ऐसा कहा था ?
डॉ. हर्षवर्धन के मुताबिक, मशहूर वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग ने आइंस्टीन की थ्योरी से वेदों की थ्योरी को बेहतर बताया था, लेकिन इसकी कोई पुष्टि नहीं हो रही है। सिर्फ इंस्टीट्यूट ऑफ साइंटिफिक रिसर्च नाम की संस्था का ये दावा है। फेसबुक पर ‘hari.scientist’ नाम के किसी शख्स ने स्टीफन हॉकिंग पर एक पेज बना रखा है, जिसमें ये बात लिखी गई है।

Related Post

ब्राजील में नाइट क्लब में अंधाधुंध गोलीबारी, 14 की मौत

Posted by - January 28, 2018 0
साओ पोलो। उत्तर पूर्वी ब्राजील के शहर फोर्टालेजा में हथियारबंद लोगों द्वारा शनिवार को एक नाइट क्‍लब में की गई अंधाधुंध…

भ्रष्टाचार खत्म करने को हर कीमत चुकाने को तैयार:मोदी

Posted by - November 30, 2017 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में भ्रष्टाचार, नोटबंदी, और केंद्र सरकार की कई…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *