नींद नहीं आती ? तुरंत कराइए इलाज, वरना टूट सकता है परिवार !

89 0

नई दिल्ली। देर रात तक जागते रहते हैं ? मोबाइल, लैपटॉप देखते रहते हैं और नींद नहीं आती ? करवटें बदलने का भी फायदा नहीं होता ? अगर ये लक्षण हैं तो सावधान हो जाइए। आपको नींद न आने की बीमारी है। इससे आपका स्वास्थ्य तो खराब होता ही है, परिवार भी बिखर सकता है। तुरंत डॉक्टर से संपर्क कीजिए। बता दें कि इस बीमारी से परेशान लोगों की तादाद अच्छी खासी है, लेकिन सिर्फ 2 फीसदी ही नींद से जुड़ी समस्या लेकर डॉक्टर के पास जाते हैं।
 
नींद न आने से क्या होता है ?
नींद न आने से शरीर के तमाम अंग ठीक से काम नहीं कर पाते। देखा गया है कि ऐसे करीब 80 से 85 फीसदी लोगों को तमाम बीमारियां घेर लेती हैं। एक शोध के मुताबिक अच्छी नींद न आने से सेक्स संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं। हालात इतने बिगड़ सकते हैं कि परिवार तक बिखर सकता है।

ये लेते हैं अच्छी नींद
सबसे अच्छी नींद भारत में बेंगलुरु के लोग लेते हैं। वहीं मुंबई में लोग सबसे कम सोते हैं और देर तक जागते हुए मिलते हैं। यही हाल दिल्ली का भी है। उत्तर भारत में भी तेजी से नींद संबंधी शिकायतें बढ़ रही हैं।

 क्या कहते हैं आंकड़े ?
93 फीसदी भारतीय 8 घंटे से कम सोते हैं
58 फीसदी भारतीय मानते हैं कि कम नींद से उनके काम पर असर पड़ता है
11 फीसदी लोग भरपूर नींद न ले पाने की वजह से दफ्तर में सोते हैं
38 फीसदी ने अपने दफ्तर में किसी सहयोगी को सोते देखा है
19 फीसदी लोगों की नींद पूरी न होने पर उनके पारिवारिक रिश्तों पर असर
87 फीसदी भारतीयों के मुताबिक अच्छी नींद न आने से स्वास्थ्य बिगड़ा
72 फीसदी भारतीय नींद के बीच 1 से 3 बार जागते हैं
33 फीसदी भारतीय खर्राटे लेते हैं
14 फीसदी लोगों के खर्राटों की आवाज उनकी बोली जितनी ही तेज होती है
2 फीसदी भारतीय ही नींद से जुड़ी समस्या लेकर डॉक्टर के पास जाते हैं

डॉक्टर का ये है कहना
नींद संबंधी समस्याओं का इलाज करने वाले यानी सोमनोलॉजिस्ट डॉ. हिमांशु गर्ग के मुताबिक नींद एक प्राकृतिक क्रिया है। ज्यादा वक्त तक दफ्तर में या काम पर गुजारने के अलावा लोगों से देर रात तक मिलना और पार्टी वगैरा करने से भी नींद कम होती है। उनका कहना है कि बच्चों में भी नींद की कमी देखी जा रही है। जबकि अगर वो अच्छी नींद लें तो उनका दिमाग और तेज हो सकता है। डॉ. हिमांशु के मुताबिक बेहतर काम करने, पारिवारिक रिश्तों को बचाने, गंभीर बीमारियों से बचने और स्मरणशक्ति तेज करने में अच्छी नींद की भूमिका होती है

Related Post

जलवायु परिवर्तन के लिए जिम्मेदार ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन रिकॉर्ड स्तर पर : UN

Posted by - November 23, 2018 0
संयुक्त राष्ट्र। जलवायु परिवर्तन में वृद्धि करने वाली मुख्य ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। यह…

यरूशलम में यूएस दूतावास के उद्घाटन से पहले हिंसक संघर्ष, 37 फिलिस्तीनियों की मौत

Posted by - May 14, 2018 0
इजरायली सेना ने गाजा सीमा पर जुटे प्रदर्शनकारियों पर की गोलीबारी, 500 से अधिक घायल तेल अवीव की जगह यरूशलम…

सनी देओल की इस आदत से बेहद परेशान हैं धर्मेंद्र, कम लोगों को पता होगी ये बात

Posted by - September 4, 2018 0
मुंबई।  फिल्म ‘यमला पगला दीवाना फिर से’ में देओल ब्रदर्स और धर्मेंद्र की तिकड़ी नजर आई थी। रियल लाइफ में इन तीनों की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *