Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

किसी ‘मां’ से टक्कर मत लेना, फेल हो जाओगे…

113 0

आप अगर पुरुष हैं और ऐसा सोचते हैं कि आपसे ताकतवर कोई नहीं है तो अपनी इस सोच को बदल दीजिए। एक महिला आपसे ज्यादा ताकतवर होती है, और अगर वो महिला मां है तो उससे मुकाबला कर पाना किसी के बस की बात नहीं है।

अमेरिका में हुई ये रिसर्च…

अमेरिका में हुई एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि मां का काम किसी नौकरी में करने वाले काम के मुकाबले ढाई गुना ज्यादा होता है। इस रिसर्च के अनुसार, एक मां बच्चे की देखभाल में 98 घंटे प्रति सप्ताह काम करती है।

अमेरिका में हुए इस सर्वे में 5 साल से 12 साल की उम्र के बच्चे की 2 हजार मांओं को शामिल किया गया और उनका जो रिजल्ट निकला वो हैरान करने वाला रहा। एक आम दिन में मां औसतन सुबह 6:23 बजे से रात 8:31 बजे तक बच्चे के लिए काम करती रहती है। इसे जोड़ा जाए तो यह 7 दिन में 14 घंटे की शिफ्ट के बराबर का काम हुआ। यह किसी भी सामान्य जॉब के मुकाबले कहीं ज्यादा है।

जूस ब्रैंड द्वारा कराई गई रिसर्च…

अमेरिका में एक जूस ब्रैंड द्वारा कराए गए इस रिसर्च के मुताबिक, एक मां एक दिन में औसतन 1 घंटा 7 मिनट का समय ही अपने लिए निकाल पाती है। वहीं स्टडी में यह भी पता चला कि 40% मांएं अपनी जिंदगी कभी न खत्म होने वाले टु-डू लिस्ट के दबाव में गुजारती हैं।

मेहनत से ज्‍यादा धैर्य की जरूरत

आपको बता दें कि यह कोई पहली रिसर्च नहीं है जिसमें एक मां को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है। इस रिसर्च से पहले 2013 में हुए एक सर्वे में पता चला था कि एक मां के टु-डू लिस्ट में लगभग 26 टास्क होते हैं। इनमें स्नैक्स का इंतजाम करना, नाश्ता बनाना और जरूरी अपॉइंटमेंट्स को मैनेज करना आदि शामिल हैं। ये सभी काम एक मां से बेहतर कोई नहीं कर सकता है। इस काम को करने में जितनी मेहनत लगती है, उससे कहीं ज्यादा धैर्य की जरूरत होती है।

Related Post

कैंब्रिज एनालिटिका के दफ्तर में लगा था कांग्रेस का पोस्टर, स्मृति का निशाना

Posted by - March 29, 2018 0
नई दिल्ली। ब्रिटिश कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका की ओर से फेसबुक यूजर्स का डाटा चुराए जाने के मामले में कांग्रेस अब…

नीतीश कुमार को 7 जन्मों में भी माफ नहीं करेंगे लालू यादव, बताया- सबसे बड़ा ‘डरपोक’

Posted by - October 16, 2017 0
पटना: राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव अगले सात जन्मों में भी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को माफ नहीं करेंगे. लालू ने सोमवार…

अमेरिका ने बोला सोमालिया पर हमला, 7 आतंकी मार गिराए

Posted by - November 4, 2017 0
अमेरिका ने पहली बार सोमालिया में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादियों पर हवाई हमला लिया जिसमें सात आतंकवादी मारे गए।  रक्षा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *