पीएनबी में एक और फ्रॉड उजागर, 9.9 करोड़ का लगा चूना

51 0

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक यानी पीएनबी में एक और फ्रॉड उजागर हुआ है। मुंबई की एक शाखा में हुई गड़बड़ी से बैंक को 9.9 करोड़ का चूना लगा है। इस मामले की पुलिस से शिकायत की गई है।

नीरव मोदी और चोकसी ने लगाई थी चपत
पीएनबी को ही हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी ने हजारों करोड़ की चपत लगाई थी। उन्होंने बैंक के कुछ अफसरों और कर्मचारियों से साठ-गांठ कर अपनी कंपनियों के लिए विदेश में स्थित भारतीय बैंकों की ब्रांच के लिए एलओयू जारी कराए थे। ये फ्रॉड पीएनबी में यूपीए की सरकार के दौरान से चल रहा था। मामला सामने आने के बाद इसकी जांच सीबीआई को सौंपी गई है।

कहां हैं नीरव और मेहुल ?
फ्रॉड उजागर होने के बाद से नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चोकसी देश से भाग गए। दोनों विदेश में हैं। दोनों के पासपोर्ट विदेश मंत्रालय ने रद्द कर दिए हैं। नीरव और मेहुल के ठिकानों और दुकानों पर ईडी, इनकम टैक्स और सीबीआई की लगातार छापेमारी जारी है।
 
रोटोमैक पेन वालों का भी घोटाला
कानपुर में रोटोमैक पेन बनाने वाली कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी और उसके बेटे को भी सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। इन दोनों ने भी बैंकों को कई सौ करोड़ का चूना लगाया है। हालांकि, दोनों देश से भागे नहीं।

आरबीआई ने क्या दिए हैं निर्देश ?
घोटालों के सामने आने के बाद रिजर्व बैंक यानी आरबीआई ने बैंकों से कहा है कि 50 करोड़ रुपए या ज्यादा का कर्ज चाहने वालों से पासपोर्ट नंबर लिए जाएं। साथ ही कारोबारियों को एलओयू जारी करने पर भी उसने रोक लगा दी है।

Related Post

गोरखपुर में पार्षद प्रत्याशी के पति को बदमाशों ने मारी गोली

Posted by - November 16, 2017 0
घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, मौके पर पहुंचे आला अधिकारी गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले में…

युगांडा के प्रेसिडेंट बोले – मुंह खाने के लिए है, ओरल सेक्स के लिए नहीं

Posted by - April 21, 2018 0
राष्‍ट्रपति योवेरी मुसेवेनी ने कहा – यहां ओरल सेक्स को बढ़ावा दे रहे हैं बाहर से आए लोग नई दिल्ली। लोगों…

अगले साल लोकसभा व विधानसभा चुनाव साथ कराने में सक्षम : चुनाव आयोग

Posted by - October 5, 2017 0
रावत ने यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया, ”केंद्र सरकार ने निर्वाचन आयोग को पूछा था कि लोकसभा एवं विधानसभाओं के…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *