जल्दी-जल्दी पलकें झपकाएं तो आंखों के डॉक्टर के पास जरूर जाएं

64 0

नई दिल्ली। अगर आपकी पलकें जल्दी-जल्दी झपकती हैं, तो सावधान होने की जरूरत है। डॉक्टरों के मुताबिक एक मिनट में 10 बार से ज्यादा पलकें झपकाने वाले लोगों को आंखों से जुड़ी गंभीर बीमारी ब्लेफरोस्पाज्म हो सकता है।

क्या होता है ब्लेफरोस्पाज्म ?
ब्लेफरोस्पाज्म बीमारी में आंखों की मांसपेशियां सिकुड़ जाती हैं। ऐसे में पलकें लगातार झपकती रहती हैं। मांसपेशियां लगातार सिकुड़ती रहें, तो पलकें पूरी तरह बंद हो जाती हैं। ऐसे में आगे चलकर आंखों की रोशनी खत्म होने का खतरा होता है। आंखों का आकार भी इस बीमारी में छोटा हो जाता है। साथ ही पलकें झपकाने पर काफी दर्द भी होता है। बीमारी बढ़ जाए, तो चेहरे की बनावट भी बदल जाती है। इसका दिमाग पर भी गहरा असर पड़ता है।

क्या है ब्लेफरोस्पाज्म का इलाज ?
ब्लेफरोस्पाज्म के इलाज में दवा कम प्रभावी होती है। इसकी जगह आंखों की एक्सरसाइज करना ज्यादा लाभ देता है। आंखों की एक्सरसाइज कई तरह की होती हैं। जिन्हें आप अपने नेत्र विशेषज्ञ से मिलकर जान सकते हैं।

आंखों की सामान्य एक्सरसाइज
हाथ को सीधा तानकर मुट्ठी बांधें। फिर अंगूठे को खोलकर बिना पलक झपकाए उसे देखें। इसके अलावा दाएं और बाएं ले जाएं। इस दौरान नजरों को अंगूठे पर टिकाए रहें। चेहरे को सामने रखकर पुतलियों को काफी ऊपर तक ले जाएं। इस अवस्था में तब तक रहें, जब तक कि आंखों में जलन और उनसे पानी न निकलने लगे। ऐसा दायें, बाएं और नीचे की ओर देखते हुए भी करें।

Related Post

राज बब्बर बोले – जैन होकर खुद को हिंदू बताते हैं अमित शाह

Posted by - December 1, 2017 0
यूपी कांग्रेस अध्‍यक्ष ने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर बोला बड़ा हमला बब्बर की यह प्रतिक्रिया राहुल गांधी…

दहेज उत्‍पीड़न में सीधे गिरफ्तारी पर फिर से विचार करेगा सुप्रीम कोर्ट

Posted by - November 29, 2017 0
एनजीओ मानव अधिकार मंच ने दाखिल की है याचिका, जनवरी के तीसरे हफ्ते में होगी सुनवाई नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट दहेज…

अति पिछड़े व अति दलितों को आरक्षण देने पर विचार कर रही योगी सरकार

Posted by - March 22, 2018 0
यूपी सरकार इसके लिए जल्द ही गठित करेगी एक समिति, जो सरकार को सौंपेगी रिपोर्ट लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *