सुकमा में शहीद यूपी के तीन जवानों के परिजनों को योगी सरकार देगी 25-25 लाख

32 0

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में मंगलवार (13 मार्च) को नक्‍सलियों से हुई मुठभेड़ में शहादत देने वाले उत्तर प्रदेश के तीन जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। मुख्‍यमंत्री ने इस हमले में शहीद सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दी। बता दें कि इस नक्‍सली हमले में बलिया के मनोज सिंह, गाजियाबाद के शोभित शर्मा तथा मऊ के धर्मेन्द्र यादव शहीद हुए हैं।

सीएम योगी ने जताई गहरी संवेदना

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने शहीद जवानों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना जताई है और उन्‍हें आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। सीएम योगी ने सुकमा की घटना में प्रदेश के शहीद जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। इसमें से 20 लाख रुपये प्रत्येक शहीद की पत्नी को और पांच लाख रुपये शहीद के माता-पिता को दिए जाएंगे।

छत्तीसगढ़ में CRPF के नौ जवान शहीद, नक्सली हमले में 9 जवान घायल  

शहीद मनोज सिंह के गांव में शोक की लहर

बलिया जिले के चितबड़ागांव क्षेत्र के उसरौली गांव निवासी सीआरपीएफ जवान मनोज कुमार सिंह (35) के नक्‍सली हमले में शहीद होने की सूचना मिलते ही पूरे गांव में शोक की लहर फैल गई। उनके परिवार में कोहराम मच गया। मनोज के पिता नरेंद्र नारायण सिंह भी सीआरपीएफ से ही रिटायर हुए हैं।

दो साल से सुकमा में तैनात थे धर्मेन्‍द्र

वहीं नक्सली हमले में शहीद हुए मऊ जिले के चिरैयाकोट के भेडि़याधर गांव निवासी सीआरपीएफ जवान धर्मेन्द्र यादव उर्फ बबलू दो साल से वहां तैनात थे। इस दौरान कई बार उनकी नक्सलियों से मुठभेड़ हुई। अक्सर वह नक्सलियों से मुठभेड़ के बारे में अपने परिवार को बताते रहते थे। धर्मेन्‍द्र के शहीद होने की खबर मिलते ही उनके पिता बेहोश हो गए। धर्मेन्‍द्र 2004 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे। उनके एक बेटा और दो बेटियां हैं, जो इलाहाबाद के सीआरपीएफ कैंप की आवासीय कॉलोनी में रहते हैं।

Related Post

लंदन, पेरिस, दुबई में हैं बच्चन परिवार के बैंक खाते, अकूत संपत्ति के बावजूद हैं कर्जदार

Posted by - March 10, 2018 0
लखनऊ। अमिताभ बच्चन महानायक हैं। उनके मुंबई में दो बंगले हैं। फिल्मों में काम करके उन्होंने अकूत संपत्ति हासिल की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *