Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

नेफ्यू रियो ने चौथी बार ली नगालैंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ

83 0
  • कोहिमा के लोकल ग्राउंड में हुआ शपथ ग्रहण समारोह, अमित शाह, निर्मला सीतारमण, रिजिजू रहे मौजूद

कोहिमा। नगालैंड में गुरुवार को नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के नेफ्यू रियो ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ 10 विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली। नेफ्यू रियो चौथी बार नगालैंड के मुख्‍यमंत्री बनने वाले पहले राजनेता हैं। इससे पहले वह 2003-08, 2008-13 और 2013-14 के दौरान नगालैंड के मुख्‍यमंत्री रह चुके हैं।

शपथ ग्रहण समारोह कोहिमा लोकल ग्राउंड में हुआ। समारोह में केंद्र की ओर से  भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह, रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू भी मौजूद रहे। समारोह में मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह, अरुणाचल प्रदेश के सीएम पेमा खांडू, असम के सीएम सर्वानंद सोनोवाल और मेघालय के नए नवेले मुख्यमंत्री कोनराड संगमा भी शामिल हुए। ऐसा पहली बार हुआ है कि नगालैंड में किसी सरकार ने खुले मैदान में शपथ ली हो।

बता दें कि एक दिसंबर, 1963 को यहीं से तत्कालीन राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने नगालैंड राज्य के गठन की घोषणा की थी। राज्यपाल पीबी आचार्य ने मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो और 10 मंत्रियों को मैदान के मुख्य मंच से पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। रियो ने अंग्रेजी भाषा में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

एनपीपी ने एनडीपीपी-बीजेपी गठबंधन से समर्थन वापस लिया

उधर, नेफ्यू रियो के शपथ ग्रहण समारोह की पूर्व संध्या पर नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने बुधवार को राज्यपाल को पत्र लिखकर कहा कि वह एनडीपीपी-बीजेपी गठबंधन से समर्थन वापस ले रही है। हालांकि इसका सरकार के गठन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि 60 सदस्यीय सदन में एनडीपीपी-बीजेपी के मिलकर 30 विधायक हैं और उन्हें दो अन्य का भी समर्थन है। एनपीपी के दो विधायक हैं। हालांकि नगालैंड एनपीपी के प्रमुख एतो येपथोमी ने मंगलवार को राज्यपाल पीबी आचार्य को एनडीपीपी-बीजेपी गठबंधन के पक्ष में समर्थन का पत्र सौंपा था।   (एजेंसी)

Related Post

फिल्म निर्देशक कल्पना लाजमी ने दुनिया को कहा अलविदा, कैंसर से थीं पीड़ित

Posted by - September 23, 2018 0
मुंबई। नारीवादी विषयों पर फिल्में बनाने के लिए मशहूर कल्‍पना लाजमी का निधन हो गया है। वे 64 वर्ष की थीं।…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *