अनिल अंबानी को झटका, रिलायंस इन्फ्राटेल के सामान की बिक्री पर रोक

28 0

मुंबई। रिलायंस कम्युनिकेशन्स को बंद करने वाले अनिल अंबानी को अब राष्ट्रीय कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने तगड़ा झटका दिया है। एनसीएलटी ने अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस इन्फ्राटेल को अपना सामान बेचने से रोक दिया है। एनसीएलटी इस मामले में 12 मार्च को अपना अंतिम फैसला सुनाएगी।

अंबानी को झटका क्यों ?
अनिल अंबानी पर सैकड़ों करोड़ का कर्ज है, जिसे चुकाने के लिए उन्होंने मोबाइल फोन सेवा देने का कारोबार बेचने का फैसला किया था। इसके तहत मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनी रिलायंस इन्फ्राटेल को भी बेचकर कर्ज चुकाना था। अनिल अंबानी को उम्मीद थी कि मोबाइल सेवा से जुड़ी अपनी सभी कंपनियों की बिक्री कर वो मार्च के अंत तक आधा कर्ज चुका देंगे, लेकिन एनसीएलटी ने उनकी उम्मीदों पर फिलहाल पानी फेर दिया है।

अब क्या है अनिल के सामने रास्ता ?
अनिल अंबानी के सामने फिलहाल रास्ता ये है कि वो एनसीएलटी के आदेश को राष्ट्रीय कंपनी अपीलीय ट्रिब्यूनल में चुनौती दें। बता दें कि अनिल अंबानी के मोबाइल टावर बिजनेस को खरीदने में उनके बड़े भाई और जियो नाम से मोबाइल सेवा लाने वाले मुकेश अंबानी ने दिलचस्पी दिखाई थी। पिता धीरूभाई अंबानी के निधन के बाद दोनों भाइयों के रिश्तों में दरार पड़ गई थी, जो काफी दिनों तक सुर्खियां बटोरती रही।

Related Post

दोबारा गर्म करके न खाएं ये चीजें, हो सकती हैं जानलेवा

Posted by - March 12, 2018 0
अन्‍न को हमेशा से ही ऊंचा दर्जा दिया जाता है, इसलिए बचे हुए खाने को फेंकने की जगह हम गर्म करके खाना पसंद करतेहैं। लेकिन खाने…

मायावती ने किया संगठन में बड़ा फेरबदल, भाई आनंद को उपाध्यक्ष पद से हटाया

Posted by - May 26, 2018 0
रामअचल राजभर बने राष्‍ट्रीय महासचिव, आरएस कुशवाहा को सौंपी उत्‍तर प्रदेश बसपा की कमान वीर सिंह व जयपाल सिंह राष्‍ट्रीय…

रायबरेली में आज गरजेंगे अमित शाह, सोनिया को गढ़ में ही देंगे चुनौती

Posted by - April 21, 2018 0
रायबरेली। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज (21 अप्रैल) कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली…

पीएनबी महाघोटाला : नीरव मोदी के खिलाफ नया केस दर्ज, 35 और ठिकानों पर छापे

Posted by - February 16, 2018 0
दूसरे दिन भी 549 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त, अबतक कुल 5649 करोड़ की संपत्ति कब्‍जे में नई दिल्‍ली। पंजाब…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *