तोगड़िया की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, बोले – मेरी हत्या की साजिश

52 0
  • लगाया आरोप – जेड प्लस सुरक्षा होते हुए भी पुलिस उन्हें उपलब्ध नहीं करा रही है एस्कॉर्ट

सूरत। विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगडि़या की कार को सूरत में एक ट्रक ने पीछे से जोरदार टक्‍कर मार दी। हादसे में तोगड़िया बाल-बाल बच गए। प्रवीण तोगडि़या ने इस घटना को उनकी हत्‍या की साजिश बताया। तोगड़िया ने कहा कि जेड प्लस सुरक्षा होते हुए भी पुलिस उन्हें एस्कॉर्ट उपलब्ध नहीं करा रही है।

हादसे के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई

घटना बुधवार (7 मार्च) सुबह की है, जब तोगड़िया की गाड़ी पर पीछे से आ रहे ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। प्रवीण ने दावा किया कि उन्होंने पुलिस को अपने रूट के बारे में पहले से ही सूचित कर दिया था। उन्होंने कहा कि वह राज्य सरकार से अपनी सुरक्षा में लापरवाही के लिए पुलिस की शिकायत करेंगे। तोगड़िया ने बताया कि बुलेटप्रूफ गाड़ी होने की वजह से सभी लोग सुरक्षित बच गए।

उधर, सूरत के पुलिस अधीक्षक (देहात) एमके नायक ने बताया, ‘सूरत जिले के कामरेज शहर से लगभग एक किलोमीटर दूर एक ट्रक ने तोगड़िया के वाहन को टक्कर मार दी। इसमें वह बाल बाल बच गए हैं। हादसे के दौरान उनके साथ एक और व्यक्ति गाड़ी में मौजूद था। हमने ट्रक जब्त कर लिया है और चालक को गिरफ्तार कर लिया है।’

आपको बता दें कि प्रवीण तोगड़िया ने इससे पहले भी अपनी हत्या का डर जताया था। बीते 15 जनवरी को प्रवीण तोगड़िया अहमदाबाद से संदिग्ध अवस्था में गायब हो गए थे। गायब होने के बाद उन्हें एक पार्क में बेहोशी की हालत में पाया गया था। इसके बाद उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय भी उन्होंने आरोप लगाया था कि राजस्थान पुलिस उनका एनकाउंटर करने आ रही थी, इसीलिए वह गायब हो गए थे।  (एजेंसी)

Related Post

उन्नाव गैंगरेप : पीड़िता के चाचा बोले – धमका रहे हैं विधायक सेंगर के गुंडे

Posted by - April 15, 2018 0
कहा – गांव छोड़ने की दे रहे धमकी, सबूत नष्ट करने का भी लगाया आरोप लखनऊ/उन्नाव। उन्नाव गैंगरेप में आरोपी…

स्‍टडी में खुलासा : ज्यादा ईमानदार होने की निशानी हैं आंखों के आसपास झुर्रियां

Posted by - October 29, 2018 0
टोरंटो। वैसे तो तो झुर्रियां बढ़ती उम्र की निशानी होती हैं। माना जाता है कि अगर आपके चेहरे और शरीर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *