सोनौली बॉर्डर से कार से भागे दो संदिग्ध पकड़े गए, पुलिस कर रही पूछताछ

25 0
  • पकड़े गए दोनों सं‍दिग्‍धों में से एक लखनऊ के गोमतीनगर का और दूसरा आलमबाग का निवासी
  • दोनों के पास से कई मुखौटे, क्रॉस चेक, दूसरे का आधार कार्ड और पीजीआई का सादा प्रमाणपत्र बरामद

शिवरतन कुमार गुप्ता ‘राज़’

महराजगंज। भारत-नेपाल सीमा से भाग रहे लखनऊ के दो संदिग्ध शनिवार को संपतिहा के पास से पकड़े गए। करीब 5 घंटे तक 60 किलोमीटर छकाने के बाद संपतिहा पुलिस ने पड़रहवा के पास से दोनों को कार सहित पकड़ लिया। संदिग्धों के पास से कई मुखौटे, क्रॉस चेक, दूसरे का आधार कार्ड, पीजीआई का सादा प्रमाणपत्र बरामद हुआ है। पूछताछ में दोनों ने खुद को लखनऊ के गोमतीनगर और आलमबाग का निवासी बताया है।

भारत-नेपाल सीमा पर सोनौली के पास शनिवार (3 मार्च) को एसएसबी के जवान जांच कर रहे थे। सुबह करीब सात बजे बिना नंबर की कार देख जवानों ने उसे रोका। इस पर दोनों बिना गाड़ी चेक कराए भागने लगे। मामला संदिग्ध देख एसएसबी की टीम ने पीछा शुरू कर दिया। अपने को घिरा देख संदिग्ध सोनौली पुलिस चेकपोस्ट को ठोकर मारते हुए भागने लगे। इसके बाद एसएसबी ने सभी थानों, चेकपोस्ट व चौकी पर संदिग्धों के भागने की सूचना दे दी। मामला संदिग्ध देख पुलिस व एसएसबी अलर्ट हो गई। संदिग्‍ध कार लेकर सोनौली से नौतनवा होते हुए संपतिहां से गजरही ढाला की ओर भागे। गजरही से मुख्य मार्ग नहीं दिखा तो वह पिपरहिया की ओर मुड़ गए। संदिग्धों को रोकने के लिए ग्रामीणों ने पेड़ काटकर सड़क बाधित कर दी। इसके बाद रास्‍ता बाधित देखकर संदिग्ध पिपरहिया से मुंडेरवा और मुंडेरवा से बरवा व परसौनी कला की ओर भागने लगे। परसौनी कला में भी ग्रामीणों ने कार को रोकने का प्रयास किया, लेकिन संदिग्ध वहां से गाड़ी लेकर पड़रहवा की ओर मुड़ गए।

संदिग्ध युवक को पकड़ कर ले जाती पुलिस

सिपाही का पैर टूटा

पड़रहवा गांव में संदिग्धों ने कार को अचानक तेजी से पीछे किया। इस बीच पीछा कर रहे सिपाही बैजनाथ का पैर टूट गया। पड़रहवा के दक्षिण में नाला होने के कारण कोई रास्ता नहीं देख संदिग्ध पश्चिम चकरोड से भागने लगे, लेकिन आगे बड़ा गड्ढा मिल गया। संदिग्धों ने कार को गड्ढे से पार कराने का प्रयास किया, लेकिन कार का डंफर वहां फंस गया। तब तक संदिग्धों का पीछा करते हुए संपतिहा चौकी इंचार्ज मनोज कुमार सिंह और उनकी टीम पहुंच गई। पुलिस को देख संदिग्धों ने गाड़ी का शीशा बंद कर लिया। चौकी इंचार्च मनोज सिंह ने रिवाल्वर से शीशा तोड़ा और संदिग्धों को बाहर निकाला। हालांकि उनके पास से कोई असलहा बरामद नहीं हुआ। करीब 20 मिनट बाद एसएसबी की टीम भी पहुंच गई।

पकड़े गए संदिग्धों के पास से कई मुखौटे, कुछ कपड़े और सारन कुमारी के नाम से भारतीय स्टेट बैंक का एक क्रॉस चेक मिला। सारन कुमारी पत्नी मंगल सिंह के नाम से ही 1/637 विनय खंड, गोमतीनगर, लखनऊ के पते वाला आधार कार्ड भी बरामद हुआ। संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (पीजीआई) लखनऊ का सादा प्रमाणपत्र भी उनके पास से मिला।

नौतनवा पुलिस और एसएसबी ने पूछताछ शुरू की

दोनों संदिग्‍धों से नौतनवा पुलिस और एसएसबी ने पूछताछ शुरू की। पूछताछ में एक ने अपना नाम मनीष सिंह निवासी मड़ियहवा, गोमतीनगर, लखनऊ और दूसरे ने छोटू कुमार गुप्त, निवासी आलमबाग नहरिया, बालाजी मंदिर, लखनऊ बताया। आरोपितों ने बताया कि वे सीतापुर के रास्ते नेपाल पहुंचे थे। वहां से लौटते समय शराब पी ली। इस बीच एसएसबी और पुलिस को देखकर घबरा गए। उन्होंने कई सिपाहियों व अधिकारियों से भी अपना संबंध बताया। पुलिस और एसएसबी की टीम उनसे कड़ाई से पूछताछ में लगी है।

Related Post

राष्ट्रपति भवन का किचन देख खुद की आखों पर यकीन नहीं कर पाएंगे आप

Posted by - July 4, 2018 0
नई दिल्‍ली। पूरी दुनिया में भारत अपनी मेहमाननवाजी के लिए जाना जाता है। यहां आने वाले हर बड़े देश के राष्ट्राध्यक्ष…

रिसर्च : वैज्ञानिकों ने दी धरती पर 3.7 अरब साल पहले जीवन की शुरुआत के दावे को चुनौती

Posted by - October 22, 2018 0
न्‍यूयॉर्क। वैज्ञानिक मान्‍यता है कि पृथ्वी पर करीब 3.7 अरब साल पहले जीवन की शुरुआत हुई थी। वर्ष 2016 में…

चित्रकूट में वास्को डी गामा-पटना एक्सप्रेस पलटी, 3 की मौत

Posted by - November 24, 2017 0
चित्रकूट.उत्तर प्रदेश में वास्को डी गामा-पटना एक्सप्रेस शुक्रवार सुबह पटरी से उतर गई। यह हादसा सुबह करीब सवा चार बजे…

गुरुत्‍व तरंगों की खोज के लिए तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को मिलेगा भौतिकी का नोबेल

Posted by - October 3, 2017 0
स्टॉकहोम : अमेरिकी खगोलविज्ञानियों बैरी बैरिश, किप थोर्ने और रेनर वेस को गुरत्व तरंगों की खोज के लिए इस साल का…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *