पीएम मोदी का कड़ा संदेश – अपने ही धर्म का नुकसान कर रहे हैं कट्टरपंथी

33 0
  • इस्लामिक हेरिटेज कार्यक्रम में बोले पीएम – कट्टरपंथ खत्म करने के लिए जॉर्डन के साथ है भारत

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (1 मार्च) को दिल्ली में इस्लामिक स्कॉलर कार्यक्रम में कट्टरपंथियों को कड़ा संदेश दिया। पीएम ने कहा, ‘कट्टरपंथी ये नहीं जानते हैं कि जिस धर्म के नाम पर वह लड़ाई लड़ने की बात करते हैं, वो उसी धर्म का नुकसान कर रहे हैं।’ कार्यक्रम में जॉर्डन के शाह अब्दुल्ला द्वितीय बिन अल हुसैन समेत देश के कई इस्लामिक नेता मौजूद थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘इस्लाम की सच्ची पहचान बनाने में जॉर्डन के शाह की अहम भूमिका है। जॉर्डन और भारत के बीच इतिहास-धर्म का रिश्ता है। जॉर्डन ऐसी जगह पर मौजूद है जहां पर खुदा का पैगाम पैगम्बरों और संतों की आवाज़ बनकर दुनिया भर में गूंजा। दुनिया के सभी धर्म भारत के पालने में पले-बढ़े हैं।’ पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत ने दुनिया को अमन की राह दिखाई। भारत की आबोहवा में सभी धर्मों की खुशबू है।’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इंसानियत के खिलाफ दरिंदगी करने वाले ये नहीं जानते कि ऐसा करने से धर्म का भी नुकसान होता है। आतंकवाद के खिलाफ मुहिम किसी धर्म के खिलाफ नहीं बल्कि मानसिकता के खिलाफ है। आतंकवाद पर काबू पाने में हम सक्षम हुए हैं।’

इस मौके पर किंग ऑफ जॉर्डन शाह अब्दुल्ला द्वितीय बिन अल हुसैन कहा ने कि धर्म सभी से प्रेम करना सिखाता है, सभी पड़ोसियों को साथ लेकर चलना सिखाता है। उन्होंने कहा कि कट्टरपंथ चिंता का विषय है, मानवता और इंसानियत ही दुनिया की बुनियाद है। किंग अब्दुल्ला ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है बेहतर भविष्य सुरक्षित रखना। जॉर्डन में मुस्लिमों और ईसाइयों के लिए हमारी ऐसी कोशिश है। हम पड़ोसी देशों के शरणार्थियों के लिए भी सद्भाव वाला माहौल तैयार करने का काम कर रहे हैं। किंग अब्‍दुल्‍ला ने कहा कि हम सभी का भविष्य साझा है। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई किसी धर्म के खिलाफ नहीं है। ये लड़ाई उदारवादियों और कट्टरपंथ की सोच के बीच है। हमें घृणा फैलाने वाली आवाज को दबाने की जरूरत है। युवा लोगों में उदारवाद की भावना विकसित करने की जरूरत है। हमें शांतिपूर्ण सहअस्तित्व की भावना के अनुरूप दुनिया को विकसित करना होगा।  (एजेंसी)

Related Post

सीरिया पर अमेरिकी नेतृत्व में मिसाइल हमले, कैमिकल अटैक का लिया बदला

Posted by - April 14, 2018 0
वॉशिंगटन/दमिश्क। अमेरिका के नेतृत्व में ब्रिटेन और फ्रांस ने शुक्रवार रात सीरिया के कई सैन्य ठिकानों पर मिसाइलों से हमले…

इस उम्र से पहले बच्चों को नहीं भेजना चाहिए स्कूल, हर पैरेंट्स को पता होनी चाहिए ये बात

Posted by - October 10, 2018 0
सैक्रामेंटो ( कैलिफोर्निया)। भारत में ज्यादातर बच्चों को पैरेंट्स कम उम्र में स्कूल भेजना शुरू कर देते हैं।  एज ये…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *