तीसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ बढ़कर 7.2 फीसदी, भारत ने चीन को पीछे छोड़ा

23 0
  • आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को राहत, जीडीपी ग्रोथ रेट में वृद्धि का उद्योग जगत ने किया स्‍वागत

नई दिल्ली। कृषि, निर्माण और विनिर्माण जैसे प्रमुख क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन की बदौलत अक्टूबर से दिसंबर की तीसरी तिमाही के दौरान देश की आर्थिक वृद्धि दर बढ़कर 7.2 प्रतिशत हो गई है जो पिछली पांच तिमाहियों में सर्वाधिक रही। तीसरी तिमाही के आर्थिक वृद्धि आंकड़ों के साथ ही बुनियादी क्षेत्र के आठ प्रमुख उद्योगों के उत्पादन सूचकांक में जनवरी माह में 6.7 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई। बुनियादी उद्योगों में कोयला, इस्पात, सीमेंट और पेट्रोलियम रिफाइनरी क्षेत्रों का प्रदर्शन बेहतर रहा है। एक साल पहले जनवरी में इन क्षेत्रों की उत्पादन वृद्धि 3.4 प्रतिशत रही थी।

चालू वित्त वर्ष की अक्‍टूबर से दिसंबर 2017 की तीसरी तिमाही के वृद्धि आंकड़ों पर वित्त मंत्रालय ने कहा है कि आंकड़ों से व्यापक स्तर की उल्लेखनीय वास्तविक आर्थिक गतिविधियों का संकेत मिलता है। वित्त मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा कि तीसरी तिमाही में 7.2 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि हासिल होने के साथ ही भारतीय अर्थव्यवस्था एक बार फिर से दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गई है। उन्होंने कहा कि स्थिर पूंजी में मजबूत वृद्धि से अर्थव्यवस्था में निवेश के गति पकड़ने का संकेत मिलता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में चीन की जीडीपी वृद्धि 6.8 प्रतिशत रही है।

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के चेयरमैन विवेक देबराय ने कहा कि अर्थव्यवस्‍था सही रास्ते पर आगे बढ़ रही है। आर्थिक वृद्धि दर में जो वृद्धि दिखाई दे रही है, वह सरकार के आर्थिक सुधारों को बढ़ाने का ही प्रतिबिंब है। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने कहा, ‘तीसरी तिमाही में 7.2 प्रतिशत की वृद्धि से इस धारणा को बल मिला है कि भारतीय अर्थव्यवस्था आर्थिक वृद्धि में सतत तेजी के रास्ते पर पहुंच चुकी है। इससे पिछली यानी दूसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि 6.5 प्रतिशत रही।’

तीसरी तिमाही के दौरान विनिर्माण क्षेत्र में सकल मूल्य वर्धन (जीवीए) में 8.9 प्रतिशत वृद्धि हुई जो कि पिछली तिमाही में 6.9 प्रतिशत बढ़ा था। इसी प्रकार कृषि क्षेत्र तीसरी तिमाही में 4.1 प्रतिशत वृद्धि हुई जोकि इससे पिछली तिमाही में 2.7 प्रतिशत थी। निर्माण क्षेत्र में इस अवधि में 2.8 प्रतिशत के मुकाबले 6.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। वित्तीय सेवाओं सहित सेवा क्षेत्र में इस दौरान 6.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।  (एजेंसी)

Related Post

तमिलनाडु की अनुकृति के सिर सजा फेमिना मिस इंडिया-2018 का ताज

Posted by - June 20, 2018 0
इस साल होने वाली मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी अनुकृति वास मुंबई। मुंबई में मंगलवार (19 जून)…

लिंगायतों के बड़े नेता हैं येदियुरप्पा, मोदी ने कराई थी बीजेपी में वापसी

Posted by - May 17, 2018 0
बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी को ऐतिहासिक जीत मिल गई है। जीत मिलने के बाद येदियुरप्पा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री…

34 की उम्र में कटरीना ने फिर कराया बोल्ड फोटोसूट, फोटो देख चौंक जाएंगे आप

Posted by - June 29, 2018 0
मुंबई। कटरीना कैफ ने एक बार फिर अपना बोल्ड अवतार दिखाया है। उन्होंने अपनी एक तस्वीर इंस्टाग्राम और ट्विटर पर…

वॉन्टेड इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक को मलेशिया ने दी पनाह

Posted by - November 2, 2017 0
कुआलालंपुर/नई दिल्ली.भारत के वॉन्टेड इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक को मलेशिया ने पनाह दे दी है। जाकिर को पिछले महीने मलेशिया की सबसे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *