मुख्य सचिव से मारपीट : पुलिस ने कहा, सीसीटीवी से की गई छेड़छाड़

88 0
  • कोर्ट में दोनों विधायकों की जमानत पर हुई सुनवाई, अदालत ने फैसला सुरक्षित रखा
  • पुलिस ने बताया – मुख्यमंत्री के बंगले के कैंप ऑफिस में नहीं, ड्रॉइंग रूम में हुई थी मीटिंग

नई दिल्लीदिल्‍ली के चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश के साथ मारपीट के मामले में आरोपी विधायकों की जमानत याचिका पर दिल्ली के एक कोर्ट में सुनवाई हुई। सोमवार को पुलिस ने कोर्ट को बताया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बंगले से जांच के दौरान जो सीसीटीवी जब्त किए गए, उनसे छेड़छाड़ की गई थी। इन्हें जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा जाएगा। दूसरी ओर, कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद आरोपियों की बेल पर फैसला सुरक्षित रख लिया है। बता दें कि आम आदमी पार्टी के विधायकों पर आरोप है कि उन्होंने 19 फरवरी को केजरीवाल के बंगले पर हुई मीटिंग में सीएस के साथ मारपीट की। गिरफ्तारी के बाद आरोपी एमएलए न्‍यायिक हिरासत में हैं।

सीएम हाउस के ड्राइंग रूम में हुई थी मीटिंग

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, एडिशनल डीसीपी हरेंद्र सिंह ने कोर्ट में कहा, ‘जिस मीटिंग में चीफ सेक्रेटरी के साथ मारपीट हुई, वह मुख्यमंत्री के बंगले के कैंप ऑफिस में नहीं बल्कि ड्रॉइंग रूम में हुई थी। जांच के दौरान सीएम हाउस से जब्त किए गए सीसीटीवी के साथ छेड़छाड़ की गई थी, उनकी टाइमिंग अलग थी।’ उधर, आईएएस ज्वाइंट फोरम ने सोमवार को काली पट्टी बांध कर इस घटना पर विरोध जताया। आईएएस ज्वाइंट फोरम की मेंबर पूजा जोशी ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि सीएम इस मामले पर लिखित माफी मांगें, लेकिन सीएम और डिप्टी सीएम माफी मांगने से इनकार कर रहे हैं। इससे यह साफ होता है कि वे भी इस साजिश का हिस्सा हैं।’

केजरीवाल के घर से जब्त हुए थे 21 कैमरे

कुछ दिन पहले दिल्ली पुलिस की एक टीम ने केजरीवाल के बंगले में एक घंटे तक छानबीन और पूछताछ की थी। पुलिस के मुताबिक, सीएम हाउस में 21 कैमरे लगे थे, जिनमें से 14 ही काम कर रहे थे और 7 में रिकॉर्डिंग बंद मिली। चीफ सेक्रेटरी से जिस जगह मारपीट हुई, वहां कोई कैमरा नहीं लगा था। 21 सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग और हार्ड डिस्क जब्त की गई। सभी कैमरों के टाइमर 40 मिनट पीछे थे।  (एजेंसी)

Related Post

SC का आदेश – जासूसी कांड में बरी पूर्व इसरो वैज्ञानिक को दें 50 लाख रुपये मुआवजा

Posted by - September 14, 2018 0
नई दिल्ली। इसरो जासूसी कांड में सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। इस मामले में जासूसी के आरोप से…

पीएम मोदी को UN का सबसे बड़ा पर्यावरण सम्‍मान ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’

Posted by - September 27, 2018 0
वर्ष 2022 तक प्लास्टिक का प्रयोग खत्म करने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ली है शपथ   न्यूयॉर्क। संयुक्त राष्ट्र (UN)…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *