स्कूली बच्चों को बेकाबू बोलेरो ने रौंदा, 9 की मौत, 24 जख्मी

124 0
  • मुजफ्फरपुर जिले में नेशनल हाईवे 77 पर हुआ हादसा, स्‍कूल से घर लौट रहे थे बच्‍चे
  • सीएम नीतीश कुमार ने दिए जांच के आदेश, मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा

पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में शनिवार को हुए भीषण सड़क हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में 7 बच्चे हैं। बताया जा रहा है कि छुट्टी के बाद बच्‍चे स्कूल से घर लौट रहे थे, इसी दौरान बेकाबू बोलेरो ने सड़क पार रहे बच्‍चों को कुचल दिया। हादसे में 24 लोग जख्मी भी हुए हैं, जिन्हें पास के एसकेएम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। इनमें 3 की हालत नाजुक बताई जा रही है। घटना के बाद आरोपी ड्राइवर फरार हो गया।

घटना के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव से बातचीत कर घटना की जानकारी ली। उन्होंने घायलों के समुचित इलाज का आदेश देते हुए पूरे मामले की जांच की बात कही है। बिहार सरकार ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए हादसे में मारे गए बच्चों के परिवारीजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है।

जानकारी के मुताबिक, हादसा मुजफ्फरपुर को सीतामढ़ी से जोड़ने वाले नेशनल हाईवे 77 पर धर्मपुर गांव के पास हुआ। स्कूल की छुट्टी के बाद दो लोग कुछ बच्चों को सड़क पार करा रहे थे, ठीक उसी वक्त तेज गति से आ रही एक बोलेरो ने बच्चों को बुरी तरह कुचल दिया। उसके बाद भी बोलेरो रुकी नहीं और आगे तक लोगों को कुचलते हुए चली गई। आगे जाकर बोलेरो एक पेड़ से टकरा गई। हादसे में मारे गए बच्चों की उम्र 9 से 14 साल के बीच है।

इस हादसे के बाद धर्मपुर गांव में मातम का माहौल है। जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए। घटना के बाद बच्चों के परिजनों में काफी गुस्सा है। मिनापुर के स्थानीय विधायक मुन्ना यादव भी हॉस्पिटल पहुंचे और घायलों का इलाज कर रहे डॉक्टरों से बात की। विधायक ने बताया कि टक्कर मारने वाली बोलेरो काफी तेज रफ्तार में थी। आरोपी ड्राइवर मौके से भाग गया। प्रशासनिक पदाधिकारी भी मौके पर पहुंच चुके हैं। स्थानीय लोगों की मानें तो इसमें स्कूल की लापरवाही सामने आई है। स्कूल के शिक्षकों द्वारा बच्चों को सड़क पार करते वक्त गाइड नहीं किया गया। अन्य दिनों में बच्चों को सड़क पार कराने के लिए वहां शिक्षक मौजूद रहते थे, लेकिन आज बच्चे अपने-आप सड़क पार कर रहे थे, इसी दौरान यह घटना हुई।  (एजेंसी)

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *