यूपी इन्वेस्टर्स समिट : गोरखपुर के सपनों को भी लगेंगे पंख

111 0
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले में दो दर्जन से अधिक उद्यमी नया उद्योग लगाने को इच्छुक

गोरखपुर। यूपी में शुरू हुई इन्वेस्टर्स समिट में गोरखपुर के औद्योगिक विकास के सपनों को भी पंख मिलने वाले हैं। इस समिट में करीब 1,500 करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद जताई जा रही है। गोरखपुर में नया उद्योग लगाने के लिए दो दर्जन से अधिक उद्यमी सामने आए हैं। माना जा रहा कि इन्वेस्टर्स समिट में इन उद्यमियों से सरकार का करार भी होगा।

नई सरकार बनने के बाद यूपी में उद्योग लगाने के लिए सरकार काफी प्रयास कर रही है। वह लगातार बड़े उद्योगपतियों को यहां बुलाकर उद्योग लगाने के लिए बेहतर माहौल का दावा कर रही। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को उद्योग फ्रेंडली बनाने के लिए इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया है। इस समिट में देश और विदेश के जाने-माने उद्योगपतियों के अलावा यूपी में उद्योग लगाने के इच्छुक सैकड़ों उद्यमियों को भी बुलाया गया है।

गोरखपुर में उद्योग लगाने के लिए भी ढेर सारे उद्यमी सामने आए हैं। इसमें एक दर्जन से अधिक उद्यमी गोरखपुर के ही रहने वाले हैं। कईयों के पूर्व में भी यहां कई उद्योग संचालित हो रहे हैं। इन लोगों ने आवेदन कर सरकार से उद्योग लगाने की इच्छा जाहिर की है।  सरकारी आंकड़े के अनुसार नए उद्यमों को लगाने के लिए 1463.74 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव आया है।

इन लोगों ने जताई उद्योग लगाने की इच्छा

यूपी पॉवर प्राइवेट लिमिटेड (ट्रांसफार्मर), शिवम इंडस्ट्रीज (ट्रांसफॉर्मर इंडस्ट्रीज), महावीर जूट मिल्स, गैलेंट इस्पात, समानी बिल्डिंग प्रोड्क्टस, श्री लक्ष्मीजी एग्रो (ऑयल सीड्स प्रोसेसिंग), इस्टर्न डोर्स (माइका लैमिनेशन), एहसान एग्रो, श्री सिद्धेश्वर उद्योग (पेपर कप एंड टेबलवेयर), सूर्या उद्योग (डिस्पोजल प्लास्टिक ग्लास एवं बर्तन), क्रेजी ब्रेड (बेकरी एंड कन्फेक्शनरी), कॉन्टीनेंटल डेवलपर्स (होटल व्यवसाय), डियो इंडस्ट्रीज (कृषि उपकरण), एसडी पॉलीटेक (पॉलिस्टर स्टेबल फाइबर एंड स्पन यार्न), एसडी इंटरनेशनल (रिजिड प्लास्टिक पैकेजिंग इंडस्ट्रीज), मोदी केमिकल्स (केमिकल्स एंड गैस इंडस्ट्रीज), सर्वोत्तम फीड प्रोडक्ट्स (कैटल फीड्स), गोरखपुर रिसोर्सेज लिमिटेड (राइस ब्रैन ऑयल), शुद्ध प्लस (सेनेटरी नैपकिन्स एंड एलाइड प्रोडक्ट्स), अंकुर उद्योग (इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट एंड कैपटिव पॉवर प्लांट), नारायणी लैमिनेट्स (प्लास्टिक शीट लैमिनेट्स), दीवान पैकेजिंग, स्वप्निल फीड्स (कैटल फीड्स), बीएन बालाजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (पीवीसी उत्पाद), नोवा फील एंड इंफोटेक (कीटनाशक), जेतूजी एग्रो (दाल मिल) आदि।

Related Post

पिछले 6 साल में 114% बढ़े मुंह के कैंसर के मामले, जानिए क्या है डॉक्टर्स की राय

Posted by - November 16, 2018 0
मुंबई। पिछले 6 साल में कैंसर के केस में 15.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च…

अल्जीरिया में सेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, 250 से अधिक लोगों की मौत

Posted by - April 11, 2018 0
सैनिकों को लेकर मिलिट्री बेस जा रहा था विमान, दुर्घटना के कारणों का अभी पता नहीं अल्‍जीयर्स। अल्जीरियाई सेना का…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *