पीएनबी महाघोटाला : नीरव मोदी के खिलाफ नया केस दर्ज, 35 और ठिकानों पर छापे

88 0
  • दूसरे दिन भी 549 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त, अबतक कुल 5649 करोड़ की संपत्ति कब्‍जे में

नई दिल्‍ली। पंजाब नेशनल बैंक महाघोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। ईडी ने पीएनबी महाघोटाले के आरोपी नीरव मोदी के खिलाफ शुक्रवार को एक और केस दर्ज किया है। साथ ही देशभर में उसके 35 अलग ठिकानों पर छापेमारी की और 549 करोड़ रुपये की संपत्ति भी जब्त कर ली। मामले में अब तक कुल 5649 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। जब्त की गई इन संपत्तियों में सोना, हीरा और अन्य ज्वैलरी शामिल हैं।

ईडी ने नया केस सीबीआई की दूसरी एफआईआर के आधार पर दर्ज किया है। ईडी के सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार को नीरव मोदी के 35 और ठिकानों पर छापेमारी की गई। उन्होंने बताया कि अब तक इस महाघोटाले में कार्रवाई करते हुए ईडी कुल 5649 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर चुकी है। वैसे एक अनुमान के मुताबिक जब्त की गई इस संपत्ति की कीमत 6000 करोड़ रुपये तक जा सकती है।

पीएनबी महाघोटाला : नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के पासपोर्ट निलंबित

सूत्रों के मुताबिक नीरव मोदी और उनके सहयोगियों के खिलाफ ये छापेमारी देश के 11 राज्यों में स्थित ठिकानों पर की गई है. इस दौरान जांच एजेंसी ने 29 अचल संपत्तियों की सूची भी बरामद की है। नीरव मोदी और उनकी कंपनी की इस संपत्ति की सूची सीबीडीटी से मिली है। शुक्रवार को ईडी की ओर से जिन 35 नए ठिकानों पर छापेमारी की गई है, उनमें से गोवा में 2, अहमदाबाद में 7, चंडीगढ़ में 4, कलकत्ता में एक, दिल्ली में तीन, पटना में एक, लखनऊ में 4, चेन्नई में एक, जालंधर में एक ठिकाने शामिल हैं। इसके अलावा आयकर (IT) विभाग के अधिकारियों ने मुंबई के काला घोड़ा स्थित नीरव मोदी के बूटीक के बाहर एक नोटिस भी चिपकाया है।

नीरव व अन्य आरोपियों के खिलाफ इंटरपोल डिफ्यूजन नोटिस जारी

इससे पहले गुरुवार को ईडी ने नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के 17 ठिकानों पर छापेमारी की थी और 5100 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की थी। वहीं, इस घोटाले के सामने आने के बाद पीएनबी ने कार्रवाई करते हुए अपने 18 कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है। इसके अतिरिक्त शुक्रवार को ही विदेश मंत्रालय ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसे का पासपोर्ट भी चार सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया। साथ ही नीरव मोदी को इस बात का जवाब देने के लिए एक हफ्ते का समय दिया कि आखिर उसके पासपोर्ट को क्यों न रद्द किया जाए? विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि अगर नीरव मोदी एक हफ्ते में जवाब नहीं देते हैं, तो यह माना जाएगा कि वो ऐसा करने में विफल रहे।  (एजेंसी)

Related Post

भगवान कृष्ण को आती थीं 64 कलाएं, इसलिए उन्हें कहते हैं गुरुओं का गुरु

Posted by - September 1, 2018 0
लखनऊ। जन्माष्टमी का त्योहार रविवार और सोमवार को मनाया जाने वाला है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान श्रीकृष्ण का…

भूकंप के तगड़े झटके से दहल गया अरुणाचल प्रदेश

Posted by - November 18, 2017 0
भारत-चीन सीमा पर आया 6.4 तीव्रता का भूकंप, चीन के कब्जे वाले तिब्बत का बड़ा इलाका प्रभावित  इटानगर। अरुणाचल प्रदेश से लगी भारत और…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *