घोटाले पर पीएनबी की सफ़ाई, कहा- दोषियों पर होगी सख्त कार्रवाई

28 0
  • बैंक के एमडी बोले – मामले की सीबीआई, सेबी और सभी संबंधित एजेंसियों को दी गई है जानकारी
  • एमडी सुनील मेहता ने माना, कर्मचारियों की मिलीभगत से ही इस घोटाले को दिया गया अंजाम

नई दिल्लीदेश के सबसे बड़े 11300 करोड़ के बैंकिंग घोटाले पर पंजाब नेशनल बैंक ने सफ़ाई दी है। पंजाब नेशनल बैंक के एमडी सुनील मेहता ने गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि इस मामले की जानकारी हमने सीबीआई, सेबी और सभी संबंधित एजेंसियों को दे दी है। बैंक के कुछ कर्मचारियों को सस्‍पेंड कर दिया गया है और कुछ के खिलाफ कार्रवाई जारी है। जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई होगी।

एमडी ने कहा कि पीएनबी 123 वर्ष पुराना बैंक है, जिसकी स्‍थापना लाला लाजपत राय ने की थी। यह बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा राष्‍ट्रीयकृत बैंक है। उन्‍होंने बताया कि 2011 में शुरू हुए इस घोटाले में बैंक इसमें संलिप्‍त कर्मचारियों पर भी कार्रवाई कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि इस मामले की जानकारी जनवरी के तीसरे सप्‍ताह में मिली और 29 जनवरी को इसकी जानकारी सीबीआई को दी गई और 30 जनवरी को इस मामले में एफआईआर दर्ज की गई। एमडी ने कहा कि बैंक इस समस्‍या से निपटने में पूरी तरह से सक्षम है।

हम किसी भी गलत काम को बढ़ावा नहीं देंगे 
सुनील मेहता ने मीडिया से आग्रह किया कि यह मामला काफी संवेदनशील है इसलिए इसमें सहयोग करें। उन्‍होंने कहा कि हम लोग किसी भी गलत काम को बढ़ावा नहीं देंगे। हम स्‍वच्‍छ बैंकिंग पर यकीन करते हैं और आरबीआई की गाइडलाइन का पालन करते हैं। उन्‍होंने इस बात को माना कि कर्मचारियों की मिलीभगत से इस घोटाले को अंजाम दिया गया। यह घोटाला सिर्फ एक ब्रांच में हुआ है। आरोपियों से पैसा वसूलने के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि आरोपी ने पैसा वापस करने का कोई ठोस प्‍लान नहीं बताया है। उन्‍होंने कहा कि बैंक के सीबीएस में लेटर ऑफ अंडरटेकिंग दर्ज नहीं हुआ था, इसलिए घोटाले की जानकारी नहीं मिल पाई।  (एजेंसी)

Related Post

उन्नाव गैंगरेप केस में योगी सख्त, शाम तक SIT रिपोर्ट मांगी, ऑडियो वायरल

Posted by - April 11, 2018 0
लखनऊ। उन्नाव में हुए गैंगरेप केस में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाया है। उन्होंने इस मामले…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *