मुस्लिम परिवार ने पेश की नजीर, गोद लिए बेटे की हिंदू रीति से कराई शादी

117 0
  • देहरादून के मोइनुद्दीन ने 15 साल पहले अनाथ राकेश रस्तोगी को अपने यहां दी थी पनाह

देहरादून यहां एक मुस्लिम परिवार ने ऐसी नजीर पेश की है जिसे समाज में हमेशा एक उदाहरण के तौर पर याद किया जाएगा। इस परिवार ने न सिर्फ एक हिंदू अनाथ बच्चे को पाल-पोसकर बड़ा किया बल्कि उसकी शादी भी हिंदू रीति-रिवाज से ही कराई। देहरादून की सिग्नल मंडी में रहने वाले मोइनुद्दीन ने 15 साल पहले एक अनाथ लड़के राकेश रस्तोगी को अपने यहां पनाह दी थी।

बीती 9 फरवरी को मोइनुद्दीन के घर से राकेश की बारात धूमधाम से निकली और हिंदू संस्कारों से शादी संपन्न कराकर बारात वापस आई। इस अनोखी बारात का स्वागत खूब धूमधाम से किया गया। इस अनोखी शादी में स्थानीय प्रशासन के अधिकारी और मीडिया के लोग भी जुटे। जब सोनी बहू बनकर मोइनुद्दीन के घर आई तो आसपास के मुस्लिम परिवारों ने हिंदू बहू का भी जोरदार स्वागत किया। 11 फरवरी को मोइनुद्दीन ने बहू आने की खुशी में अपने घर पर रिसेप्शन का आयोजन किया। इस दावत में सारा इंतजाम शाकाहारी था। राकेश ने बताया कि जब से वह इस घर में आया है,  उसे कभी नहीं लगा कि वह एक मुस्लिम परिवार में रह रहा है। उसके पूजा-पाठ पर भी कभी किसी ने कोई रोक-टोक नहीं लगाई।

अनाथ हिंदू का किया पालन-पोषण
मोइनुद्दीन बताते हैं कि वह राकेश के लिए पिछले कई वर्षों से हिंदू लड़की की तलाश में थे। उन्होंने बताया कि 15 साल पहले जब राकेश उनके पास आया था, तब वह 12 साल का था। मोइनुद्दीन के दो और दो बेटियां हैं, मगर वह राकेश को ही बड़ा बेटा मानते हैं। उन्होंने बताया कि मुसलमान के घर में हिंदू लड़के का होना किसी को भी हजम नहीं होता था, इसलिए कोई अपनी लड़की देने को तैयार नहीं होता। अंत में उनकी तलाश मोथरोवाला के आत्माराम के घर जाकर खत्म हुई। आत्माराम चौहान अपनी बेटी सोनी का हाथ राकेश के हाथों में देने को तैयार हो गए।

मुस्लिम घर में देवी-देवताओं की तस्वीर
आत्माराम जब रिश्ते की बात पर लड़के का घर देखने देहरादून आए तो उनके आश्चर्य का ठिकाना नहीं था। एक मुस्लिम के घर के एक कमरे में हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरें लगी थीं। इंसानियत की अनोखी मिसाल देखकर आत्माराम अपनी लड़की को इस घर की बहू बनाने के लिए फौरन तैयार हो गए।

Read More : http://zeenews.india.com/hindi/india/up-uttarakhand/dehradun/dehradun-muslim-family-adopted-a-boy-and-got-him-married-as-per-hindu-traditions/373049

Related Post

सचिन तेंदुलकर ने अपने अंदाज में किया आलोचकों का मुंह बंद

Posted by - April 1, 2018 0
प्रधानमंत्री राहत कोष में दान दिया राज्‍यसभा सदस्‍य के रूप में मिला अपना पूरा वेतन प्रधानमंत्री कार्यालय ने उनकी इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *