सुंजवान आर्मी कैंप पर हमला, 5 जवान शहीद, 4 आतंकी ढेर

38 0
  • 29 घंटे से ज्‍यादा समय से सेना चला रही है ऑपरेशन, अंदर अब भी आतंकियों के छिपे होने की आशंका

जम्मू। जम्मू के सुंजवान आर्मी कैंप पर हुए फिदायीन हमले में सेना ने अबतक 4 आतंकियों को मार गिराया है। इस ऑपरेशन में 5 जवान शहीद हो गए हैं, जिनमें 2 जेसीओ शामिल हैं। मुठभेड़ के दौरान एक नागरिक की भी मौत हो गई है। आतंकियों के खिलाफ चल रहे ऑपरेशन को 29 घंटे से भी ज्यादा का समय बीत चुका है। बताया जा रहा कि सेना के रिहायशी कैंप में अब भी 1 या 2 आतंकी छिपे हुए हैं, इसलिए ऑपरेशन अब भी जारी है। इस ऑपरेशन की निगरानी आर्मी चीफ बिपिन रावत खुद कर रहे हैं। शनिवार देर रात ही वह जम्मू पहुंच गए थे।

शनिवार तड़के हुआ हमला
सेना की वर्दी में आए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने शनिवार तड़के सुंजवान के सैन्य शिविर पर धावा बोल दिया। शुरुआती हमले में दो सैनिक शहीद हो गए और महिलाओं, बच्चों सहित नौ अन्य लोग घायल हो गए। आतंकियों ने फैमिली क्वार्टर में घुसकर सो रहे लोगों पर गोलीबारी की और गोले फेंके। आतंकी सेना की वर्दी में थे और एके-56 राइफलों, ढेर सारे गोला-बारूद और हथगोलों से लैस थे। शहीदों में सेना का एक जूनियर कमीशंड अधिकारी भी शामिल है। जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकियों को मार गिराया गया जबकि अन्य अभी भी कैंप में छिपे हुए हैं। शहीद जवानों की पहचान जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) मदन लाल चौधरी और गैर कमीशंड अधिकारी (एनसीओ) अशरफ अली के रूप में हुई है। दोनों जम्मू एवं कश्मीर से ही थे।

घायलों में शहीद जेसीओ की बेटी भी
घायल नौ लोगों में पांच महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। इनमें शहीद जेसीओ की बेटी भी है, जो स्कूल की छुट्टियां बिताने पिता के पास आई थी। घायलों में दो की हालत गंभीर है। रक्षा विभाग की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, ‘आतंकियों के पास मिले सामानों से इस बात की पुष्टि हुई है कि वे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी थे। घरों में मौजूद निहत्थे सैनिकों, महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए अभियान को अत्यंत सावधानी और संयम के साथ चलाया जा रहा है।’

बयान में कहा गया है कि परिसर के 150 घरों में से अधिकांश को खाली करा लिया गया है और उसके निवासियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। सभी आतंकियों के मारे जाने या गिरफ्तार किए जाने तक अभियान जारी रहेगा। आतंकियों के पास से हथियार और गोला-बारूद बरामद होने के अलावा उनके पास से जेईएम के झंडे भी बरामद हुए हैं। हमले को देखते हुए समूचे जम्मू शहर में रेड अलर्ट है। आर्मी कैंप के आधे किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया गया है। केंद्र सरकार की हालात पर पूरी नजर है।  (एजेंसी)

Related Post

अयोध्या में भगवान राम की सबसे बड़ी मूर्ति लगाने की तैयारी में योगी आदित्यनाथ

Posted by - October 10, 2017 0
लखनऊ: अयोध्या में रामलला के मंदिर का मसला भले ही सुप्रीम कोर्ट में अटका हो लेकिन विवादित स्थल से थोड़ी ही दूर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *