Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

ओमान में बोले पीएम मोदी – दुनिया भारत की तरक्की का सम्मान कर रही है

74 0
  • बोले पीएम मोदी – देश ने मुझे जिन आशाओं और अपेक्षाओं से बैठाया है, उसे कभी खरोंच नहीं आने दूंगा

मस्कट। अपने खाड़ी देशों के दौरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार की शाम ओमान पहुंच गए। राजधानी मस्कट में प्रधानमंत्री का राजकीय सम्मान किया गया। एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री सीधे होटल गए, जहां उनके स्वागत में बड़ी संख्या में भारतीय मौजूद थे। पीएम वहां लोगों से मिले और उनका अभिनंदन स्वीकार किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने यहां के सुल्तान कबूस स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स में प्रधानमंत्री ने 34 हजार भारतीयों से सीधा संवाद किया। इस मौके पर उन्‍होंने कहा, देश ने जिन आशाओं और अपेक्षाओं से बैठाया है, उसे कभी खरोंच नहीं आने दूंगा।

गूंजे वंदे मातरम के नारे
प्रधानमंत्री के स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में पहुंचने पर वहां मौजूद भारतीयों ने ‘भारत माता की जय’ और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाए। प्रधानमंत्री ने छह भाषाओं में वहां मौजूद लोगों का अभिनंदन किया। उन्होंने कहा, ‘ये हमारे देश की इतनी बड़ी शक्ति है कि अगर मैं सिर्फ नमस्कार अलग-अलग भाषाओं और बोलियों में करने लगूं तो घंटों बीत जाएंगे। यह विविधता और किसी देश में देखने को नहीं मिलेगी।’ प्रधानमंत्री का संबोधन शुरू होते ही पूरा माहौल वंदे मातरम और ‘भारत माता की जय’ के नारों से गूंज उठा। उन्होंने कहा, ‘आज दुनिया भारत को सम्मान दे रही है। ये सम्मान उनका नहीं भारत की तरक्की और भारतीयों का सम्मान है।’

ओमान से हजारों साल पुराने संबंध
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘भारत और ओमान के बीच संबंध सैकड़ों-हजारों साल पुराने हैं। 5 हजार साल पहले भी गुजरात से लकड़ी के जहाज ओमान आते थे। हजारों वर्षों में व्यवस्थाएं बदल गईं। भारत में गुलामी का कालखंड आया, लेकिन दोनों देशों के बीच कारोबारी संबंध यथावत बने रहे।’ उन्होंने कहा कि ओमान के विकास में भारत के राष्ट्रदूत यानी भारतवंशियों की भागीदारी रही है। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से एक राजदूत होता है, लेकिन देश की तरफ से लाखों राष्ट्रदूत यहां बैठे हैं। हम एक नीति बनाकर खाड़ी देशों के साथ दोस्ती के रिश्तों को एक नए मुकाम पर ले जा रहे हैं। भारत की बढ़ती हुई प्रगति और साख के साथ-साथ खाड़ी देशों की भारत में रुचि लगातार बढ़ रही है।

न्यू इंडिया के संकल्प में जुटा हर भारतीय
पीएम मोदी ने कहा, ‘रास्ता कितना भी कठिन हो, हालात कितने भी मुश्किल हों, हम वो लोग हैं जिन्हें संकटों से निकलना आता है। आज हर भारतीय न्यू इंडिया के संकल्प को पूरा करने के लिए जी-जान से जुटा हुआ है। हम ऐसे भारत के निर्माण की ओर बढ़ रहे है, जहां गरीब से गरीब व्यक्ति भी आगे बढ़ने का सपना देख सके और उन्हें साकार कर सके।’

हवाई चप्पल वाला भी हवाई सफर करे
पीएम मोदी ने भारतीयों को संबोधित करते हुए कहा, ‘बीते 70 साल की यात्रा में देश में 450 हवाई जहाज आए और पिछले एक साल में 900 जहाज खरीदने के सौदे हुए हैं। हवाई चप्पल पहने वाला भी हवाई सफर करे, यह मेरी सरकार का सपना है। भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत 53000 किलोमीटर हाईवे बनाने का काम शुरू किया, 11 शहरों में मेट्रो रेल पर काम चल रहा है। समुद्र तटों को विकसित करने के लिए सागरमाला योजना शुरू की है। मछुआरों को आधुनिक बोट खरीदने के लिए मदद की जा रही है।’

यूएई में वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट को किया संबोधित
मस्कट पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री मोदी यूएई में थे। वहां उन्होंने वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट (WGS) को संबोधित किया। अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि जब भी वह यूएई आते हैं, उन्हें अपनापन और बेहद प्यार मिलता है। उन्होंने कहा, ‘विकास के लिए टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल में दुबई अपने आप में एक मिसाल है। यहां टेक्नोलॉजी के जरिए एक चमत्कार को साकार किया गया है। पृथ्वी पर मानव के विकास की यात्रा में हर छोटे-बड़े मुकाम पर टेक्नोलॉजी की छाप है। लगभग 200 साल पहले विश्व की लगभग एक मिलियन आबादी का 94 फीसदी हिस्सा गरीबी में रहता था। आज विश्व की जनसंख्या सात गुना से भी ज्यादा है, लेकिन इस आबादी का करीब 9.5 फीसदी ही गरीबी में है।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘टेक्नोलॉजी भारत के विकास में एक अहम रोल अदा कर रही है। किसी भी सरकार में समान विकास और सभी की समृद्धि सुनिश्चित करने के लिए टेक्नोलॉजी बहुत ही अहम है।’ भारत में टेक्नोलॉजी के महत्व पर रोशनी डालते हुए उन्होंने आधार नंबर का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आधार के कारण तमाम योजनाओं में पारदर्शिता आई है। इसके द्वारा 800 करोड़ की हेराफेरी को रोका गया है। आज आधार के कारण सरकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों को मिल रहा है।  (एजेंसी)

 

Related Post

संगीत सोम बोले- ताजमहल भारतीय संस्कृति पर धब्बा, ओवैसी का जवाब- टूरिस्ट बैन कर दो

Posted by - October 16, 2017 0
हैदराबाद से सांसद और AIMIM प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी ने बीजेपी विधायक संगीत सोम के ताजमहल को लेकर दिए बयान पर पलटवार किया.…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *