रेणुका चौधरी मामले पर राज्यसभा में हंगामा, कांग्रेस बोली – माफी मांगें पीएम

25 0

नई दिल्लीकांग्रेस की वरिष्ठ नेता रेणुका चौधरी की हंसी को लेकर पीएम मोदी द्वारा दिए गए बयान पर गुरुवार को राज्यसभा में कांग्रेस ने जोरदार हंगामा किया। इसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। सदन में कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगने को कहा है। बता दें कि बुधवार को पीएम मोदी के भाषण के दौरान रेणुका चौधरी जोर-जोर से हंस रही थीं, जिस पर प्रधानमंत्री ने टिप्‍पणी की थी।

रेणुका ने बताई हंसने की वजह
रेणुका चौधरी ने खुद अपने हंसने की वजह बताई। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी ने मुझ पर व्यक्तिगत टिप्पणी की है। आप उनसे और क्या अपेक्षा कर सकते हैं? मैं उन्हें जवाब देकर अपना स्तर नहीं गिराना चाहती। यह वास्तव में किसी महिला के अपमान वाली स्थिति है।’ रेणुका ने उस बात का भी जिक्र किया जिसके कारण उन्हें हंसी आई। उनका कहना था, ‘पीएम मोदी ‘आधार’ पर कांग्रेस पर आरोप लगा रहे थे, जबकि आधार के खिलाफ खुद प्रधानमंत्री मोदी ने कई बार पब्लिक मीटिंग में बोला है।’

रेणुका खुद चाहती थीं कि उनको सुर्खियां मिले : रुपा गांगुली
इस मामले पर बीजेपी सांसद रुपा गांगुली ने रेणुका को ही सारे विवाद का कारण बताया। रूपा गांगुली ने कहा, ‘जिस तरह से रेणुका चौधरी हंसीं, हर किसी के दिमाग में कोई ना कोई ख्याल आया। हो सकता है रिजिजू के दिमाग में सूर्पणखा का ख्याल आया हो, मेरे भी दिमाग में कुछ ख्याल आया था। जिस वक़्त पीएम बोल रहे थे, उस दौरान इस तरह हंसकर शायद रेणुका खुद चाहती थीं कि उनको सुर्खियां मिले।’

रिजिजू द्वारा शेयर वीडियो से बढ़ा विवाद
दरअसल, इस मामले पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने एक वीडियो शेयर कर इस विवाद को और तूल दे दिया। रिजिजू ने ‘सूपर्णखा’ की हंसी वाला एक वीडियो अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया है। इस वीडियो में ‘सूपर्णखा’ जोर-जोर से हंस रही है। इस वीडियो में सूपर्णखा की हंसी को पीएम मोदी के राज्यसभा में दिए गए उस बयान से लिंक किया गया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि ऐसी हंसी रामायण सीरियल के बाद आज सुनने को मिली है।

क्या है पूरा विवाद

बता दें कि बुधवार को राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब आधार के मुद्दे पर बोल रहे थे, तभी कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी जोर से हंसीं।  इस पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने उन्हें ऐसा नहीं करने के लिए टोका और कहा कि प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान इस तरह का व्यवहार नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कांग्रेस नेताओं से कहा कि रेणुका को इस तरह का व्यवहार नहीं करने के लिए कहा जाए, अन्यथा वह उन पर कार्रवाई करेंगे। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा, ‘सभापति जी, रेणुका जी को कुछ मत कहिए क्योंकि रामायण धारावाहिक समाप्त होने के बाद पहली बार ऐसी हंसी सुनाई दी है।’  (एजेंसी)

Related Post

समलैंगिक संबंधों का विरोध किया तो कलयुगी बेटी ने मां को मार डाला

Posted by - March 12, 2018 0
गाजियाबाद की घटना, बेटी और उसकी टीचर के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज गाजियाबाद। गाजियाबाद में एक मां ने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *