यूपी के हर लोकसभा क्षेत्र में 100-100 दिव्यांगों को मिलेगी मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल

48 0
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिव्यांगों के लिए किया बड़ा ऐलान, आसान हो जाएगी जिंदगी
  • गोरखपुर में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजनों के कार्यक्रम में पहुंचे योगी

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र में 100-100 दिव्यांगों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल देने का ऐलान किया है। योगी ने कहा कि दिव्यांगों को जन्म से बोझ समझा जाता है परन्तु हम दिव्यांगों को भी सशक्त बना रहे हैं। मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल से रोजगार करके दिव्यांग न केवल अपना बल्कि पूरे परिवार का पालन पोषण कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में सामाजिक अधिकारिता शिविर में एडिप तथा वायोश्री योजना के अंतर्गत सहायक उपकरण वितरण कार्यकम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे थे। विशिष्ट अतिथि के रूप में केंद्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत मौजूद रहे। यहां 4115 एडिप योजना तथा वायोश्री योजना में बुजुर्गों को 7072 उपकरण वितरित किए गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार द्वारा पारित एक्ट के तहत प्रदेश सरकार नौकरियों में दिव्यांगों को 3 के स्थान पर 4 प्रतिशत आरक्षण दे रही है। प्रदेश सरकार दिव्यांगों को 300 रुपये के स्थान पर 500 रुपये की पेंशन दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में दिए जाने वाले मोटराइज्‍ड ट्राइसाइकिल का अनुदान भी प्रदेश सरकार वहन करेगी।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बनेगा पुनर्वास केंद्र
मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वी उप्र जापानी इंसेफलाइटिस से प्रभावित रहता है, इससे तमाम बच्चे दिव्यांग हो जाते है। उन्होंने भारत सरकार के सामाजिक अधिकारिता मंत्री एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद दिया कि ऐसे दिव्यांगों के लिए केन्द्रीय पुनर्वास केन्द्र गोरखपुर के लिए स्वीकृत किया है। बीआरडी मेडिकल कालेज में इसके लिए भूमि भी उपलब्ध करा दी गई है। इसके निर्माण के बाद यहां के दिव्यांगों को बेहतर सुविधा मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने गरीब कन्याओं का सामूहिक विवाह कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए प्रत्येक शादी पर 35 हजार रुपये आर्थिक सहायता दी जाएगी। उन्होंने मंत्री थावरचंद गेहलोत को 2019 कुम्भ का लोगो का स्मृति चिह्न भेंट किया।

मुख्यमंत्री के हाथों इनको मिले उपकरण
मुख्यमंत्री ने रामकिशुन को व्हीलचेयर, पूनम तथा हरिगोपाल को ईको फ्रेन्डली मोटराइज्‍ड ट्राइसाइकिल, मोहन और सतनी को चश्मा, भानुमति को सुनने की मशीन, जयकिशोर को दांत का सेट वितरित किया। उन्होंने विधायकों से कहा कि ब्लाकवार दिव्यांगों को उपकरण खुद वितरित करें। समारोह में स्पर्श एवम् दृष्टिबाधित राजकीय बालक काॅलेज के छात्रों को सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत प्रस्तुत किया। केंद्रीय मंत्री गहलोत ने इन छात्रों को कार्यक्रम करने पर 11 हजार रुपये का पुरस्कार दिया। समारोह में गोरखपुर के महापौर सीताराम जायसवाल ने सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर विधायक डॉ.राधा मोहन दास अग्रवाल, विपिन सिंह, फतेह बहादुर, महेन्द्रपाल सिंह, संत प्रसाद, शीतल पाण्डेय, एम.एल.सी. देवेन्द्र प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे।

दिव्यांगों को मिलेगा यूनिवर्सल परिचय पत्र
भारत सरकार के सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा कि अब सभी दिव्यांगों को यूनिवर्सल परिचय पत्र दिए जाएंगे जो पूरे देश में मान्य होगा। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति इसका वितरण कराएगी। पहले केवल 7 श्रेणी के दिव्यांग होते थे, अब इन्हें 21 श्रेणी में रखा गया है ताकि सभी को सहायता मिल सके। उन्होंने कहा कि जर्मनी से सहयोग प्राप्त करके हाथ पैर से दिव्यांग व्यक्तियों के लिए इलेक्ट्रानिक हाथ पैर बनाया जा रहा है जिससे आदमी अपना प्रत्येक काम कर सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी डीएम अपने जिले में दिव्यांगों का सर्वे कराएं ताकि शिविर आयोजित कर उन्हें उपकरण दिए जा सकें। गहलोत ने कहा कि दिव्यांगों को वित्त विकास विभाग द्वारा रोजगार के लिए 4 प्रतिशत ब्याज पर लोन दिया जाता है। अब तक 1.50 लाख दिव्यांग जनों को रोजगार के लिए लोन दिया गया है।

Related Post

दंगल एक्ट्रेस जायरा वसीम से फ्लाइट में छेड़छाड़ करने वाला शख्स मुंबई से गिरफ्तार

Posted by - December 11, 2017 0
मुंबई. फिल्म दंगल की एक्ट्रेस जायरा वसीम (17) से विस्तारा एयरलाइन में छेड़छाड़ करने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया…

माल्या ने शेल कंपनियों के जरिए की 500 करोड़ की मनी लांड्रिंग : ईडी

Posted by - October 5, 2017 0
भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की गिरफ्तारी से पहले प्रवर्तन निदेशालय ने यूके की अदालत में एफिडेविट दायर कर दावा किया था कि 7…

मोबाइल सिम, बैंक अकाउंट और स्‍कूल एडमिशन के लिए जरूरी नहीं आधार : SC

Posted by - September 26, 2018 0
सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने अपने अहम फैसले में कुछ शर्तों के साथ बरकरार रखी आधार की वैधता नई दिल्‍ली। ‘आधार’ की वैधता को लेकर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *