चंद्रग्रहण : 150 साल बाद अनूठा संयोग, ब्लू, ब्लड और सुपर मून एक साथ

68 0
  • गोलशास्त्रियों के मुताबिक आसमान में ये संयोग 150 साल बाद बना, अब 11 साल बाद दिखेगा यह नजारा

लखनऊ। भारत समेत कई देशों में बुधवार शाम 5:18 से लेकर रात 8:41 बजे तक साल का पहला पूर्ण चंद्रग्रहण देखा गया। वाराणसी, कानपुर, औरया, लखनऊ, जमशेदपुर, रांची, देवघर, जयपुर, चेन्नई सहित कई शहरों में लोगों ने चंद्रग्रहण देखा, वहीं बिहार के पटना और उत्तराखंड के देहरादून में बादल होने के कारण चंद्रग्रहण नहीं दिखाई दिया।  लोगों में चंद्रग्रहण देखने को लेकर जबरदस्त उत्साह दिखा।

तस्वीरों में पूर्ण चंद्रग्रहण का अद्भुत नजारा

आसमान में यह घटना इसलिए भी खास रही क्‍योंकि इस बार का चंद्रग्रहण तीन रंगों में नजर आया – ब्‍लडमून, सुपरमून, और ब्‍लूमून। यही वजह है कि साल 2018 के इस चंद्रग्रहण की महत्ता और भी बढ़ गई है। 150 साल बाद पहली बार यह नजारा देखने को मिला। अब ये अद्भुत नजारा 11 साल बाद दिखेगा। भारत के अधिकांश हिस्सों में ग्रहण का असर दिखा। हालांकि अलग अलग शहरों में इसका समय बदला था। सबसे पहले चंद्रग्रहण शाम 5:01 मिनट पर गुवाहाटी में दिखा। इसके बाद पटना में 5:28 बजे दिल्ली में 5:58 मिनट पर जबकि जयपुर में 6:01 मिनट, ओडिशा में 6:02 मिनट पर और मुंबई में 6:29 बजे देखा गया।

8.41 बजे चंद्रग्रहण दिखना बंद

पूर्ण चंद्रग्रहण शाम 6:21 बजे से शुरू हुआ और पूर्ण चंद्रग्रहण की स्थिति रात को 7:37 बजे खत्म हो गई । रात करीब 8.41 बजे इसका आंशिक रूप दिखना बंद हो गया। चंद्रग्रहण रात 9:38 बजे खत्म हो गया।

Related Post

अकेला महसूस करने वाले लोग Fb पर रहते हैं ज्यादा एक्टिव, बुजुर्गों से भी ज्यादा तन्हा हैं युवा

Posted by - October 5, 2018 0
मैनचेस्टर (ब्रिटेन)। अगर हम ये सोचते हैं कि दुनिया में बुजुर्ग सबसे ज्यादा अकेले हैं तो हम गलत हैं। यूनिवर्सिटी…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *