पद्म और वीरता पुरस्कारों का ऐलान, धोनी और पंकज आडवाणी को पद्मभूषण

133 0
  • इस साल 3 लोगों को पद्म विभूषण, 9 को पद्म भूषण और 73 लोगों को पद्मश्री प्रदान की गई
  • राष्ट्रपति ने कॉरपोरल ज्योति प्रकाश निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से किया पुरस्कृत  

नई दिल्‍ली। विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट सेवाओं और उल्लेखनीय कार्यों के लिए 2017 के पद्म पुरस्कारों और वीरता पुरस्कारों का गुरुवार को ऐलान कर दिया गया।  इस बार 85 लोगों को पद्म अवॉर्ड दिया गया। इसके अलावा राष्ट्रपति ने अशोक चक्र, कीर्ति चक्र और शौर्य चक्र भी प्रदान किए। राष्ट्रपति ने कॉरपोरल ज्योति प्रकाश निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से पुरस्कृत किया।

इन्‍हें मिला पद्म विभूषण पुरस्कार

इस साल तीन लोगों को पद्म विभूषण, नौ लोगों को पद्म भूषण और 73 लोगों को पद्मश्री प्रदान की गई। बता दें कि पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर की जाती है। इस बार पुरस्कारों के लिए 15,700 लोगों ने आवेदन किया था। इस साल पद्म विभूषण से सम्‍मानित होने वालों में इलैयाराजा (कला-संगीत) तमिलनाडु, परमेश्वरन (साहित्य एवं शिक्षा) केरल और गुलाम मुस्तफा खान (कला-संगीत) महाराष्ट्र शामिल हैं।

पद्म भूषण पुरस्कार

जिन नौ लोगों को पद्म भूषण सम्मान दिया गया है, उनमें पंकज आडवाणी को खेल के क्षेत्र में, महेन्द्र सिंह धोनी को क्रिकेट में योगदान के लिए, केरल के फिलीपोज मार क्रिसोटम को, पब्लिक अफेयर्स के क्षेत्र में रूस के अलेक्जेंडर कदाकिन को पद्म भूषण सम्मान मिला है। पुरातत्व के क्षेत्र में तमिलनाडु के रामचंद्रन नागास्वामी, साहित्य और शिक्षा के वेद प्रकाश नंदा को पद्मभूषण सम्मान दिया गया है। नंदा अमेरिका में रहते हैं। पेंटिंग के क्षेत्र में लक्ष्मण राय, संगीत के क्षेत्र में अरविंद पारिख और बिहार की शारदा सिन्हा को कला व संगीत क्षेत्र में पद़्म भूषण सम्मान से नवाजा गया है।

पद्मश्री पुरस्कार

पद्मश्री पुरस्‍कार पाने वालों में अरविंद गुप्ता-साहित्य और शिक्षा (महाराष्ट्र), भज्जू श्याम-कला (पेंटिंग) मध्य प्रदेश, लक्ष्मी कुट्टी-औषधि (सर्पदंश) केरल, सुशांशु बिस्वास-समाज सेवा (पश्चिम बंगाल), एमआर राजगोपाल-औषधि (केरल), मुरलीकांत पेटेकर-खेल (महाराष्ट्र), सुलागट्टी नरसम्मा-औषधि (कर्नाटक), विजय लक्ष्मी नवनीतिकृष्णन-साहित्य और शिक्षा (महाराष्ट्र), सुभासिनी मिस्त्री-समाज सेवा (पश्चिम बंगाल) और राजगोपालन वासुदेवन-विज्ञान एवं इंजीनियरिंग (तमिलनाडु) आदि शामिल हैं।

राष्ट्रपति पुलिस पदक

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत के राष्‍ट्रपति ने आरपीएफ/आरपीएसएफ जवानों को उनकी असाधारण सेवाओं के लिए राष्‍ट्रपति के पुलिस पदक और सराहनीय सेवाओं के लिए पुलिस पदक से सम्‍मानित किया है। रेलवे के आईजी राजेंद्र कुमार मलिक को असाधारण सेवाओं के लिए राष्‍ट्रपति का पुलिस पदक दिया गया। उनके अलावा सराहनीय सेवाओं के लिए 13 लोगों को पुलिस पदक दिया गया।

शौर्य चक्र से नवाजे गए ये बहादुर

गुरुवार को राष्ट्रपति ने अदम्य साहस का परिचय देने वाले कॉरपोरल देवेंद्र मेहता, मेजर अखिल राज, कैप्टन रोहित शुक्ला, कैप्टन अभियनव शुक्ला, कैप्टन प्रदीप शूरी आर्या, हवलदार मुबारक अली, हवलदार रविंद्र थापा, नायक नरेंद्र सिंह, लांस नायक बधेर हुसैन और परातरूपर मंचू को शौर्य चक्र प्रदान किया।

Related Post

नीरव का कारनामा : 1.3 करोड़ के एक ही हीरे को 4 कंपनियों को लाखों डॉलर में बेचा

Posted by - August 31, 2018 0
नई दिल्ली। अमेरिका में बैंकरप्‍सी को सौंपे गए 165 पेज के डोजियर में हीरा कारोबारी नीरव मोदी द्वारा भारत के अबतक…

कर्नाटक के कोर्ट ने रचा इतिहास, सिर्फ 11 दिनों में दोषी को सज़ा

Posted by - July 8, 2018 0
चित्रदुर्ग की जिला अदालत ने सुनाया आज तक सबसे तेज़ फैसला, पेश किया उदाहरण बेंगलुरु। कर्नाटक में चित्रदुर्ग की जिला…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *