दिल्ली के बवाना में 3 फैक्ट्रियों में भीषण आग, 17 की मौत

22 0
  • मची अफरातफरी, कई लोग जान बचाने के लिए तीसरी मंजिल से नीचे कूदे

नई दिल्‍ली। दिल्ली के बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में शनिवार शाम फैक्ट्री में लगी भीषण आग से 17 लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि दो प्लास्टिक फैक्ट्री और एक पटाखा फैक्ट्री इस आग की चपेट में आ गई जिससे हादसे ने और गंभीर रूप धारण कर लिया। बहुमंजिला इमारत के कई फ्लोर में आग लगने के बाद लोग जान बचाने के लिए भागने लगे। बताया जा रहा है कि कई लोग तो जान बचाने के लिए तीसरी मंजिल से नीचे कूद गए। मृतकों में 8 महिलाएं भी हैं।

इमारतों से कई शव जली हालत में बाहर निकाले जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक फैक्ट्री में आग बुझाने के पर्याप्त उपाय नहीं थे। आग लगने के बाद यहां दहशत और अफरा-तफरी मच गई। मुख्य गेट और सीढ़ियों के आग की चपेट में आने के बाद वहां काम कर रहे कई लोग सीधे ऊपरी मंजिलों से जान बचाने के लिए नीच कूदने लगे। मौके पर दमकल की 10 गाड़ियां मौजूद हैं और आग पर काबू पा लिया गया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने बताया कि हालात पर गंभीर नजर बनाए हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी हादसे पर ट्वीट कर दुख जताया है और मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। बता दें कि बाहरी दिल्ली स्थित बवाना में कई छोटी-बड़ी फैक्ट्रियां संचालित होती हैं। यहां खिलानों, कपड़े और कई अन्य सामानों की फैक्ट्री हैं जहां पर यूपी-बिहार के अलावा अलग-अलग राज्यों से आए मजदूर काम करते हैं।

Related Post

शत्रुघ्न सिन्हा के बंगले के अवैध हिस्से पर बीएमसी ने चलाया बुलडोजर

Posted by - January 9, 2018 0
छत पर अवैध ढंग से बने एक टॉयलेट और एक ऑफिस को बीएमसी ने ढहाया मुंबई। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने…

जिन्हें 11 साल से पहले आ जाते हैं पीरियड्स उनके बेटों को करना पड़ता है इस चीज का सामना : स्टडी

Posted by - October 13, 2018 0
कोपेनहेगन। जिन महिलाओं को पहली बार पीरियड्स 11 साल से पहले हो जाते हैं, उनके बेटों को कई चीजों का…

एशियन गेम्स 2018 : कुश्ती में बजरंग पूनिया ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड

Posted by - August 19, 2018 0
10 मीटर एयर राइफल के मिक्‍स्‍ड इवेंट में कांस्य पदक जीतकर भारत ने खोला अपना खाता जकार्ता। इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *